बिहार में नहीं थम रहा अपराध, अलग-अलग वारदातों में तीन की हत्या, एक नव विवाहिता ने भी की आत्महत्या

पटना, एमएम : ये बिहार है। भला अपराध थम जाए तो फिर बिहार क्या। नब्बे के दशक से बिहार में अपराध बढ़ना शुरू हुआ वो कम होने का नाम ही नहीं ले रहा है। या यूँ कहें की बिहार में अपराध एक उद्योग हो गया है। बिहार में शुक्रवार को अलग-अलग वारदातों में तीन की हत्या कर दी गई। ये घटनाएं नालंदा, बेगूसराय, औरंगाबाद और नवादा में हुईं। नालंदा में जहां बुजुर्ग को गोलियों से भून दिया गया तो वही बेगूसराय में एक व्यक्ति की हत्याकर शव को खेत में फेंक दिया गया। औरंगाबाद में एक अधेड़ की गला दबाकर जान ले ली गई। वहीं नवादा में नवविवाहिता की आत्हत्या को स्वजनों ने हत्या करार दिया है।

पहली घटना नालंदा के नगरनौसा थाना क्षेत्र के प्रेमन बिगहा मोड़ स्थित पुल पर चंडी थाना क्षेत्र के धर्मपुर निवासी 68 वर्षीय मुन्ना प्रसाद महतो को बदमाशों ने गोलियों से भून डाला। उनके सिर हाथ एवं पैर में गोलियां लगीं। नगरनौसा थाना पुलिस ने उन्हें चंडी प्राथमिक स्वास्थ केंद्र में दाखिल कराया जहां से प्राथमिक उपचार के बाद पीएमसीएच भेज दिया गया। घटना की वजह जमीन विवाद बताई जा रही है। संदेह नगरनौसा थाना क्षेत्र के गिलानी चक गांव निवासी भतीजे पर है। जानकारी के मुताबिक मुन्ना चंडी जाने के लिए घर से निकले थे। फिर नगरनौसा कैसे गए? इसका बही तक पता नहीं चला है।

औरंगाबाद और बेगूसराय में हत्या

दूसरी घटना हसपुरा प्रखंड के सोनहथु पंचायत के धमनी गांव के टोले आजाद बिगहा गांव में बीती रात 45 वर्षीय युगेश पासवान की गला दबाकर हत्या कर दी गई। हत्या का कारण प्रेम प्रसंग बताया जाता है। सूचना मिलने पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में ले लिया है। पुलिस शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल औरंगाबाद भेज दिया है।

इसी तरह बेगूसराय के मथार निवासी अवध झा के 40 वर्षीय पुत्र मिंटू झा की हत्या कर अज्ञात हत्यारों ने शव को खेत में फेंक दिया। शुक्रवार की सुबह जब घास काटने खेत में लोग गए तो घटना की जानकारी हुई। एक दूसरी घटना भी बेगुसराय में ही घटी। मकरदही निवासी योगेन्द्र सिंह के पुत्र कारु सिंह का अपहरण बीती रात अज्ञात अपराधियों ने उलाव के पास से कर लिया है। बुलेट से घर लौटने के दौरान दौरान उसका अपहरण हुआ। सिंघौल ओपीध्यक्ष मनीष कुमार ने बताया कि अब तक स्वजनों ने आवेदन नहीं दिया है। पुलिस अपने स्तर से मामले की पड़ताल में जुटी है। शराब कारोबार में व्यावसायिक रंजिश का मामला बताया जा रहा है।

उधर नवादा जिले के नरहट थाना क्षेत्र के काजीपुरा गांव में एक नवविवाहित महिला ने आत्महत्या कर ली। बताया जाता है कि इसी साल मार्च महीने में बिरजू महतो की बहू की शादी हुई थी। पुलिस शव को अपने के कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दी है।  मृतक महिला के मायके पक्ष ने ससुराल वालों पर हत्या करने का आरोप लगाया है।

Leave a Reply