सुशांत केस: CBI जांच के सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर देश के कानून मंत्री से बिहार के मुख्यमंत्री तक क्या बोले – LIVE अपडेट

दिल्ली, एमएम : सुशांत सिंह राजपूत मौत मामले की सीबीआई जांच को सुप्रीम कोर्ट ने हरी झंडी दे दी है। सुप्रीम कोर्ट ने सुशांत सिंह राजपूत की मौत के संबंध में पटना में दर्ज प्राथमिकी की जांच सीबीआई से कराने की बिहार सरकार की सिफारिश को बुधवार को सही ठहराया। साथ ही सुप्रीम कोर्ट ने मुंबई पुलिस से सीबीआई जांच में सहयोग करने का आदेश दिया है। बता दें कि पटना में यह प्राथमिकी सुशांत सिंह राजपूत के पिता कृष्ण किशोर सिंह ने दर्ज कराई थी। अब सुप्रीम कोर्ट के अहम फैसले के बाद राजनीतिक और गैर राजनीतिक प्रतिक्रिया आने लगी है। देश के प्रधानमंत्री से लेकर बिहार के मुख्यमंत्री और महाराष्ट्र के गृहमंत्री तक ने अपनी प्रतिक्रिया दी है । जाने किसने क्या-क्या कहा है –

केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने ट्वीट किया, ‘न्याय की जीत हुई। सुशांत सिंह राजपूत की आत्मा को अब संतोष मिलेगा कि उनकी दुर्भाग्यपूर्ण मृत्यु के कारणों की सीबीआई द्वारा निष्पक्ष और त्वरित जांच होगी जिसके लिए पटना में दायर बिहार पुलिस की एफआईआर को सुप्रीम कोर्ट ने वैधानिक मानते हुए सीबीआई की जांच के लिए स्थानांतरित किया है।

उन्होंने इस मामले को आगे ले जाने के लिए दिवंगत अभिनेता के परिजन के साहस का अभिनंदन करते हुए कहा कि पूरा देश आज सुशांत को न्याय मिले, इस भावना के साथ खड़ा है।

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने निर्णय का स्वागत करते हुए कहा कि ये न्याय की जीत है। ये कोई राजनैतिक मुद्दा नहीं था, बिहार सरकार ने जो किया वो क़ानून के दायरे में था।

शिवसेना संजय राउत ने कहा कि कानूनी कार्रवाई के बारे सरकार में जो कानून के जानकार हैं या मुंबई पुलिस के ​कमिश्नर या एडवोकेट जनरल ही सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर बात कर सकते हैं, मेरे लिए इस पर बात करना सही नहीं है।

वहीं महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट का फैसला आया है। आदेश की एक प्रति प्राप्त करने के बाद हम उसके बारे में कोई प्रतिक्रिया देंगे।

महाराष्ट्र पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने कहा है कि सुप्रीम कोर्ट ने जो फैसला दिया है उससे जनता का न्याय व्यवस्था पर विश्वास बढ़ेगा। जिस प्रकार से इस केस को महाराष्ट्र में हैंडल किया गया, मुझे लगता है कि महाराष्ट्र सरकार को इस पर आत्मचिंतन करना चाहिए। हम अपेक्षा करते हैं कि सीबीआई जल्द से जल्द जांच करेगी।

सुशांत सिंह केस में सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर रिया  चक्रवर्ती के के वकील सतीश मानशिंदे ने कहा कि रिया सीबीआई के समक्ष जाएंगी और जांच में सहयोग करेंगी। रिया चक्रवर्ती का मानना है की सत्य नहीं बदलेगा।

तेजस्वी प्रसाद यादव ने ट्वीट करते हुए कहा कि सबसे पहले सुशांत केस में हमने सड़क से लेकर सदन तक सीबीआई जांच की मांग की थी और उसी का परिणाम था कि 40 दिनों से सो रही बिहार सरकार को कुंभकर्णी नींद से जागना पड़ा था। आशा है एक तय समय सीमा के अंदर न्याय मिलेगा।

इसी कड़ी में एक्टर शेखर सुमन ने अपनी प्रतिक्रिया जाहिर की है। शेखर सुमन ने एक ट्वीट में लिखा- ‘आप सभी को बधाइयां। सुप्रीम कोर्ट ने सीबीआई जांच के पक्ष में फैसला दिया है। खुशियां।’ इसके साथ ही उन्होंने एक वीडियो भी पोस्ट किया है। जिसमें लोग खड़े होकर तालियां बजाते हुए नजर आ रहे हैं। इतना ही नहीं शेखर सुमन ने रिपब्लिक टीवी से बातचीत में कहा कि यह शानदार खबरों में से एक है।

लोजपा प्रमुख चिराग पासवान ने कहा कि अब न केवल सच्चाई सामने आएगी, बल्कि वे नाम भी सामने आएंगे जो मामले में जांच को बाधित करने के पीछे थे। मुझे उम्मीद है कि कोर्ट के आदेश से सुशांत सिंह राजपूत के परिवार को राहत मिली होगी।

सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद अंकिता लोखंडे ने न्याय की मूर्ति की एक तस्वीर शेयर की और लिखा- सत्य की जीत।

सुशांत चचेरे भाई और भाजपा विधायक नीरज सिंह बबलू ने कहा कि हमारा परिवार सुप्रीम कोर्ट और उन सभी को धन्यवाद देता है जो न्याय के लिए इस आंदोलन का हिस्सा थे। अब हम निश्चित हैं कि सुशांत को न्याय मिलेगा।

बिहार डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय ने कहा कि मैं बहुत खुश हूं। सुप्रीम कोर्ट के आदेश से कोर्ट में लोगों का भरोसा मजबूत हुआ है और देश को भरोसा दिलाया है कि सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में न्याय मिलेगा।

सुशांत सिंह राजपूत के पिता के वकील विकास सिंह ने फैसला आने के बाद कहा कि यह सुशांत सिंह राजपूत के परिवार की जीत है। सुप्रीम कोर्ट के सभी प्वाइंट हमारे पक्ष में हैं। सुप्रीम कोर्ट ने यह भी स्पष्ट रूप से कहा कि पटना में दर्ज एफआईआर सही है।

सुप्रीम कोर्ट के फैसले के तुरंत बाद सुशांत की बहन श्वेता कार्ति सिंह ने ट्वीट कर अपनी खुशी जाहिर की और लिखा- फाइनली सुशांत केस की सीबीआई करेगी जांच।

बिहार सरकार में मंत्री संजय झा ने कहा कि मुंबई पुलिस एक तरह से केस बंद करना चाहती थी। सुशांत सिंह राजपूत के परिवार की ओर से एफआईआर करने के बाद ही गंभीरता से जांच शुरू हुई है। हमें उम्मीद है कि परिवार को न्याय मिलेगा।

बता दें कि सुशांत सिंह केस की जांच को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने फैसला दिया है। कोर्ट ने केस की जांच का अधिकार सीबीआई को दे दिया है। सुशांत का परिवार और उनके फैंस सीबीआई जांच की लंबे समय से मांग कर रहे थे। सुप्रीम कोर्ट ने बिहार में दर्ज FIR को भी सही ठहराया है।

सुशांत सिंह केस में सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद स्पष्ट हो गया कि अब सीबीआई को महाराष्ट्र सरकार से जांच की इजाजत नहीं लेनी होगी। सीबीआई चाहे बिहार से लेकर मुंबई तक किसी से भी पूछताछ कर सकती है। बिहार पुलिस को जिन बाधाओं का सामना करना पड़ा, सीबीआई को यह नहीं झेलना पड़ेगा।

Leave a Reply