प्रधानमंत्री मोदी ने मैथिली-भोजपुरी में किया ट्वीट, मुख्यमंत्री नीतीश ने सराहा तो तेजप्रताप ने कसा तंज

नई दिल्लीः कल यानि मंगलवार 30 जून को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोरोना काल के दौरान छठी बार देश की जनता को संबोधित किया। जिसमें प्रधानमंत्री ने भारत के मेहनती किसान और ईमानदार टैक्सपेयर्स की तारीफ की और साथ ही उन्होंने लोगों से कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए भी कई अहम बातें बताईं जिसमें पीएम ने मास्क पहनने पर जोर देते हुए ये भी बताया कि एक प्रधानमंत्री को बिना मास्क के बैठक में शामिल होने पर जुर्माना भरना पड़ा था। पीएम नरेंद्र मोदी ने संबोधन के शुरुआत में ही कहा कि अनलॉक होने के बाद लापरवाही देखने को मिल रही है।

इसके बाद प्रधानमंत्री ने अपने ट्वीटर एकाउंट से ने कई भारतीय भाषाओं में ट्वीट किया और ट्वीट की खास बात ये रही कि पीएम मोदी ने अपने ट्वटिर हैंडल से मैथिली और भोजपुरी भाषा में भी ट्वीट किया है। उन्होंने भोजपुरी भाषा में ट्वीट करते हुए लिखा, ‘ई गरीबजन के सम्मान सुनिश्चित करे वाला बा। प्रधानमन्त्री गरीब कल्याण अन्न योजना के आगे बढ़ावला से देश भर के करोडों लोगन के फैदा होई।’

वहीं मैथिली में पीएम मोदी ने ट्वीट कर लिखा कि गरीब सबहक गरिमा सुनिश्चित करहब। पीएम गरीब कल्याण अन्न योजनाक विस्तार सम्पूर्ण भारतक करोड़ों गरीब लोक के लेल होयत।

आपको बता दें कि इस साल अक्टूबर नवंबर में बिहार में विधानसभा चुनाव होने वाले हैं और पीएम मोदी ने आज अपने राष्ट्र के नाम संबोधन में छठ पूजा का भी जिक्र किया है। ऐसे में मोदी के मैथिली और भोजपुरी भाषा में किए गए इस ट्वीट पर बिहार में राजनीतिक चश्मे से देखना स्वाभाविक है और उस पर प्रतिक्रिया भी देखने को मिली।

प्रधानमंत्री के संबोधन के बाद बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने ट्वीट कर पीएम मोदी का आभार व्यक्त किया और अपने ट्वीट में लिखा, “माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी द्वारा गरीब कल्याण अन्न योजना का विस्तार करते हुए गरीबों को 5 माह का अतिरिक्त मुफ्त राशन देने की घोषणा के लिए मैं उनको धन्यवाद देता हूं और आभार व्यक्त करता हूं।”

वहीं लालू के लाल तेजप्रताप ने ट्वीट कर तंज कसा है और लिखा है कि कउन भाषा…आच्छा, भोजपुरी..! बिहार में चुनाव  बा..।।

Leave a Reply