कानपुर एनकाउंटर पर योगी की दो टूक- गैंगस्टर विकास दुबे के बिना मुख्यालय न लौटें पुलिस अधिकारी

लखनऊ, एमएम : कानपुर एनकाउंटर को हुए आज पांच दिन हो गए। लेकिन उस कांड का मुख्य आरोपी विकास दुबे अब भी पुलिस के गिरफ्त से बाहर है। इसी बाबत  मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कानपुर प्रकरण पर पुलिस अधिकारियों की हाईलेवल मीटिंग बुलाई। गैंगस्टर की गिरफ्तारी न होने से नाराज सीएम योगी ने आदेश दिए कि लखनऊ से अधिकारियों को भेजकर भगोड़े विकास दुबे को पकड़ा जाए। साथ ही उन्होंने दो टूक शब्दों में कहा कि जब तक विकास दुबे पकड़ा ना जाए तब तक अधिकारी मुख्यालय ना लौटें।

बतादें कि सोमवार को 4 दिन बीत जाने के बाद भी गैंगस्टर विकास दुबे का कोई सुराग न मिलने की वजह से मुख्यमंत्री योगी ने अधिकारियों को तलब किया। मुख्यमंत्री द्वारा बुलाई गई बैठक में डीजीपी, अपर मुख्य सचिव गृह, एडीजी लॉ एंड ऑर्डर मौजूद थे।

बता दें कि कानपुर में 8 पुलिसकर्मियों की हत्या कर भागे विकास दुबे की फिलहाल कोई जानकारी नहीं लग पाई है। गैंगस्टर दुबे की तलाश में 40 थानों को पुलिस फोर्स, एसटीएफ और कई बड़े अधिकारी लगे हुए हैं।

उच्च सूत्रों की माने तो विकास दुबे उत्तर प्रदेश की सीमाओं को पार कर बाहर भाग चुका है। यूपी पुलिस ने मध्य प्रदेश, बिहार और राजस्थान पुलिस की मदद मांगी है। जिस पर बिहार के डीजीपी ने आश्वासन दिया है कि यदि बिहार में ऐसी कोई सुराग मिलती है तो निश्चित रूप से अपराधी को छोड़ा नहीं जाएगा।

सबसे बड़ी बात जो सामने आ रही है कि कानपुर कांड के बाद से विकास दुबे ने मोबाइल का इस्तेमाल नहीं किया है। लिहाजा पुलिस को ट्रेस करने में अधिक कठिनाई हो रही है।

Leave a Reply