ज्ञानभवन में 3 अगस्त से शुरू होगा बिहार विधानमंडल का मॉनसून सत्र, राज्यपाल ने दी मंजूरी

पटना, एमएम : बिहार में कोरोना संक्रमण अब विकराल रूप ले रहा है। विधानसभा सचिवालय में कई कोरोना मरीज मिले। कोरोना संक्रमण को देखते हुए इस बार राजधानी पटना के सम्राट अशोक कन्वेंशन सेंटर के ज्ञान भवन में 3 अगस्त से बिहार विधानमंडल का मॉनसून सत्र आयोजित होगा। राज्य सरकार के संसदीय कार्य विभाग के इस प्रस्ताव पर राज्यपाल फागू चौहान ने शुक्रवार को अपनी मंजूरी दे दी।

कोरोना संक्रमण को देखते हुए विधानसभा और विधान परिषद ने अपने-अपने सदन में सत्र के दौरान सामाजिक दूरी का पालन करने में अपनी असमर्थता सरकार के समक्ष जाहिर की थी। साथ ही सरकार से किसी अन्यत्र, बड़ी जगह विधानमंडल की कार्यवाही को संचालित करने का सुझाव दिया था। चूंकि विधानमंडल के सत्र की तिथि और स्थान राज्यपाल द्वारा तय किया जाता है, सो संसदीय कार्यविभाग ने उनसे स्थान परिवर्तन पर मंजूरी देने का आग्रह किया था।

राज्यपाल ने सरकार के प्रस्ताव पर मुहर लगाते हुए अपना आदेश जारी कर दिया। उन्होंने कहा है कि भारत के संविधान के अनुच्छेद-174 के खंड-1 के द्वारा प्रदत्त शक्तियों का प्रयोग करते हुए मैं, फागू चौहान, बिहार राज्यपाल, इसके द्वारा बिहार विधानसभा एवं बिहार विधान परिषद को 3 अगस्त को 11 बजे से बिहार विधानमंडल के सभा वेश्म, पटना की जगह सम्राट अशोक कन्वेंशन सेंटर पटना के परसिर में अवस्थित ज्ञान भवान में अधिवेशित होने के लिए आहूत करता हूं।

दूसरे तल पर स्थित हॉल में विधानसभा जबकि पहले तल पर विधान परिषद की कार्यवाही चलेगी। पूछे जाने पर विधानसभा के प्रभारी सचिव भूषण कुमार झा ने इसकी पुष्टि की। उन्होंने कहा कि राज्यपाल की स्वीकृति का आदेश मिल चुका है। शनिवार को विधानसभा अध्यक्ष विजय कुमार चौधरी के आदेश के बाद माननीय सदस्यों के बीच इस सूचना को प्रचारित किया जाएगा।

चार दिवसीय मॉनसून सत्र में कोरोना संकट की वजह से कटौती की जा सकती है। विश्वस्त सूत्रों के मुताबिक, सत्र के एक दिन अथवा दो दिन संचालित किए जाने के हिसाब से भी तैयारियां की जा रही हैं। हालांकि इस पर निर्णय 31 जुलाई को होने वाली सर्वदलीय बैठक में होगी। पूछे जाने पर विधानसभा अध्यक्ष विजय कुमार चौधरी ने कहा कि सभी दल राजी हो जाएं तो सत्र छोटा हो सकता है।

Leave a Reply