दरभंगा, मधुबनी, सीतामढ़ी, समस्तीपुर और पश्चिमी चंपारण के कई गांवों में घुसा बाढ़ का पानी, दो चचरी पुल भी बहा ले गई बाढ़

दरभंगा, एमएम : बिहार में लगातार बारिश हो रही है। मौसम विभाग के मुताबिक अभी कुछ दिन और इसी तरह के हालात रहेंगे।  खास कर उत्तर बिहार के कई क्षेत्र में मंगलवार को भी झमाझम बारिश हुई। जिससे नदियों के जलस्तर में लगातार वृद्धि जारी है। तबांधों पर दबाव बढ़ रहा है। दरभंगा जिले के कई गांवों में बाढ़ का पानी घुस गया है। दो चचरी पुल बह गए हैं। अधवारा की धौंस और बागमती नदी के जलस्तर में वृद्धि होने से सिरहुल्ली-कोठिया, टेकटार-बाजीतपुर पथ में बने दोनों चचरी पुल बाढ़ के पानी में बह गए। इससे आवगमन पूरी तरह से प्रभावित हो गया है। स्थानीय लोगों के मुताबिक मंगलवार की सुबह चचरी पुल पर बाढ़ का पानी चढ़ गया। साथ ही जलकुंभी का बड़ा भाग बहाव में आकर पुल पर अटक गया। इसके बाद लोगों की परेशानी बढ़ गई।

दरभंगा जिले के घनश्यामपुर प्रखंड क्षेत्र के कई गांवों में कमला बलान का पानी घुस गया है। सड़कों पर तीन से चार फीट पानी बह रहा है। कमतौल, कुशेश्वरस्थान के कई गांव पानी से घिरे हैं। अचानक शाम में जलस्तर में वृद्धि हो गई। जिससे कमतौल और मधुबनी के बिस्फी क्षेत्र के लोगों में दहशत व्याप्त हो गया है। अचानक नदी में पानी बढ़ने के पीछे नेपाल से पानी छोड़ने की आशंका व्यक्त की जा रही है। इसे देखते हुए स्थानीय लोग बांध की निगरानी भी कर रहे हैं।

वहीं मधुबनी जिले के मधेपुर प्रखंड के द्वालख-मुसहरी पथ में तिलयुगा नदी पर बने पुल के पहुंच पथ में तेज कटाव जारी है। खरीक व जानकीनगर पुल के बीच कच्ची सड़क का भुतही बलान नदी का कटाव जारी है। कई गांवों का सड़क संपर्क प्रखंड मुख्यालय से कट गया है। नावों से आवागमन हो रहा है। लदनियां में एनएच-104 पर पद्मा-योगिया के बीच धौरी नदी के डायवर्सन पर पानी चढऩे के कारण लोग निर्माणाधीन पुल पर चढ़कर नदी पार कर रहे हैं। समस्तीपुर जिले के शिवाजीनगर में करेह नदी के जलस्तर में तेजी से बढोतरी हो रही है।

वहीं सीतामढ़ी में बागमती का पानी कटौझा व डुब्बाघाट में लाल निशान के ऊपर बह रही है। शहर के भवदेपुर में कुष्ठ कॉलोनी लखनदेई नदी के पानी से डूब गई है। कैलाशपुरी पुल के पास बांध में कटाव हो रहा है। बैरगनिया में बागमती, लालबकेया नदी में बढ़ते जलस्तर के बाद प्रशासन हाई अलर्ट है।

पश्चिम चंपारण के बगहा एक प्रखंड के खजूरी गांव में पुल निर्माण कार्य बंद कर दिया गया है। अमवा खास तटबंध पर लक्षमीपुर के सामने तीन और छह नंबर स्पर पर गंडक नदी का दबाव बढ़ता जा रहा है। स्पर के सामने बना बोल्डर कैरैट ठोकर धंसता जा रहा है। नदी की धारा तटबंध पर टकरा रही है। वहीं पूर्वी चंपारण के सुगौली प्रखंड क्षेत्र की उत्तरी श्रीपुर पंचायत में भारी वर्षा से मुख्य पथ गोङ्क्षवदापुर में एक पुलिया ध्वस्त हो गई। इससे आवागमन बाधित हो गया है।

Leave a Reply