योगी आदित्यनाथ के सरकारी आवास सहित 50 भवनों को उड़ाने की धमकी देने वाला आरोपी गोंडा से गिरफ्तार, पुलिस कर रही है गहन पूछताछ

लखनऊ, एमएम : मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के सरकारी आवास सहित लखनऊ में 50 भवनों को बम से उड़ाने की धमकी देने वाले पुलिस की गिरफ्त में हैं। दो दिन से गहन पड़ताल में लगी पुलिस ने इस मामले में गोंडा से दो लोगों को पकड़ा है। दोनों सगे भाई हैं। आरोपी युवक गोंडा जिले के छपिया थाना क्षेत्र के टीकर गांव का बताया जा रहा है। एसीपी सेंट्रल अभय कुमार मिश्रा के अनुसार, आरोपी को गोंडा से गिरफ्तार किया गया है। उसे लखनऊ लाया जाएगा। बतादें कि इस मामले में लखनऊ के गौतम पल्ली थाना में रिपोर्ट दर्ज है।

जानकारी के मुताबिक पुलिस का कहना है कि रंजिश में गांव के लोगों को फंसाने के लिए यह मैसेज किया गया था। बतादें कि  शुक्रवार को लखनऊ के पुलिस आयुक्त सुजीत पांडेय ने जानकारी दी थी कि 12 जून दोपहर को यूपी 112 के वाट्सएप नंबर पर एक मैसेज प्राप्त हुआ था। जिसमें मुख्यमंत्री आवास समेत 50 अन्य महत्वपूर्ण इमारतों को बम से उड़ाने की धमकी दी गई थी। इस मामले में पुलिस ने जांच की तो पता चला कि मैसेज गोंडा के एक युवक के नंबर से आया था। जिसके बाद इसकी जानकारी गोंडा पुलिस को दी गई। लखनऊ से भी पुलिस की टीमें गोंडा पहुंची। पुलिस ने इस मामले में छपिया थाना क्षेत्र के टीकर गांव निवासी राजा बाबू व मनीष को गिरफ्तार किया है।

एसपी आरके नैय्यर ने बताया कि राजा बाबू व मनीष सगे भाई है। राजा बाबू ने यह मैसेज किया था। इसके बाद में उसके भाई ने मोबाइल तोड़कर साक्ष्य छुपाने का प्रयास किया। गांव के लोगों को रंजिश के मामले में फंसाने के लिए राजा बाबू ने मैसेज किया था। यहां पर पुलिस ने टूटा मोबाइल बरामद करने का दावा किया है। पुलिस के मुताबिक राजा बाबू के पास तीन मोबाइल थे, दो का वह प्रयोग करता था। इस मामले में उसने तीसरे मोबाइल का प्रयोग किया था, जिससे गांव के लोग फंस जाएंगे। अभी इनका कोई आपराधिक इतिहास नहीं है। इस धमकी के मामले में अन्य बिंदुओं पर जांच की जा रही है।

अब देखने वाली बात ये होगी की जाँच और गहन पूछताछ के बाद इस योजना में और कौन-कौन से लोग शामिल हैं। क्या इसका कनेक्शन किसी आतंकी संगठन से तो नहीं है। हालाँकि आब यूपी पुलिस राहत कि साँस ले रही है। गौरतलब है कि गुरुवार को लखनऊ में सीएम योगी आदित्यनाथ के सरकारी आवास, पांच कालीदास मार्ग सहित विक्रमादित्य मार्ग मार्ग के 50 प्रमुख भवनों को बम से उड़ाने के धमकी भरे मैसेज ने उत्तर प्रदेश पुलिस की नींद उड़ा दी थी।

Leave a Reply