बेटा देश के लिए शहीद हुआ है, अब दोनों पोता को भेजेंगेः शहीद कुंदन के पिता का बयान

नई दिल्लीः लद्दाख के गलवान घाटी में सोमवार देर रात भारत-चीनी सैनिकों के बीच हुई हिंसक झड़प में 20 भारतीय जवान शहीद हो गए। शहीद जवानों में से एक जवान बिहार के मिथिला क्षेत्र के सहरसा ज़िले आरन गांव के कुंदन कुमार यादव भी हैं। शहीद कुंदन के पिता को जब ये बात पता चली तो उनका भी कलेजा दरक गया होगा। अपने जिगर के टुकड़े को खोने का ग़म जो एक आम व्यक्ति में होता है, वैसा ही कुछ शहीद कुंदन कुमार के पिता में भी होना था।
लेकिन समाचार एजेंसी एएनआई को दिए अपने बयान में शहीद कुंदन के पिता ने चेहरे पर बिना किसी शिकन के गर्व के साथ कहा कि मेरा बेटा देश के लिए शहीद हुआ है, दो पोता है उसे भी देश की सेवा के लिए भेजेंगे। शहीद कुंदन के पिता का ये बयान देशवासियों का सीना गर्व से चैड़ा कर दिया है। मुश्किल की घड़ी में यही हैसला हमारे सेना के साथ होता है जो फौलाद की तरह साथ रहता है।
शहीद कुंदन की पत्नी का कहना है कि 9 जून को उनकी आखि़री बार बातचीत हुई थी। अपने पति की मौत का बदला उन्हें चाहिए। शहीद कुंदन कुमार यादव सहित सभी को विनम्र श्रद्धांजलि!

Leave a Reply