पटना में चीनी सेना के खिलाफ हो रहा है जमकर विरोध प्रदर्शन, पप्पू यादव जेसीबी पर चढ़कर चीनी कंपनी के विज्ञापन पर पोती कालिख

पटना, एमएम : लद्दाख की गलवन घाटी में वास्तविक नियंत्रण रेखा पर भारत और चीनी सैनिकों के बीच हुई हिंसक झड़प में बिहार ने अपना पांच लाल की शहादत दी है। लोगों में उबाल आना स्वाभाविक है। इसी कड़ी में पटना में जमकर विरोध प्रदर्शन किया जा रहा है।

समाचार एजेंसी ANI के हवाले से खबर मिली है कि जन अधिकार पार्टी के अध्यक्ष और पूर्व सांसद पप्पू यादव चीन की कंपनियों का बहिष्कार करने के लिए सड़क पर उतर आए हैं। गुरुवार को बिहार की राजधानी पटना में वे अपने समर्थकों के साथ चीनी प्रोडक्टर के बहिष्कार का नारा बुलंद करते हुए दिखाई दिए। इस दौरान पप्पू यादव ने एक चीनी मोबाइल कंपनी के विज्ञापन पर कालिख भी पोत दी। विज्ञापन तक पहुंचने के लिए उन्होंने जेसीबी का सहारा लिया। जेसीबी मशीन पर सवार हो कर पप्पू यादव अपने एक समर्थक के साथ विज्ञापन पर कालिख पोतते हुए नजर आए।

इस दौरान पप्पू यादव ने कहा कि मैं सभी अभिनेताओं और क्रिकेटरों से भी अपील करता हूं कि आप सभी चीन की कंपनियों का विज्ञापन न करें। जाप बिहार में लगे चीनी विज्ञापनों का बहिष्कार करेगी। उन्होंने जनता और व्यपारियों से चीनी वस्तुओं का बहिष्कार करने की अपील की। पप्पू यादव ने कहा कि चीन की सेना ने वास्तविक नियंत्रण रेखा का उल्लंघन करते हुए भारतीय सीमा में घूस आई है और धोखे से हमारे जवानों को मारा। देश की जनता चीन के सामान का बहिष्कार करेगी। इससे चीन को आर्थिक नुक्सान होगा और कड़ा सबक मिलेगा।

उधर पटना में लोगों ने गधों को चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग और रक्षा मंत्री की फोटो पहनाकर विरोध प्रदर्शन किया। 15-16 जून को गलवान घाटी में भारत-चीन के बीच हुई ​झड़प में भारत के 20 जवानों की जान चली गई थी।

Leave a Reply