पटना में दिनदहाड़े पीएनबी बैंक में डकैती, 52 लाख रुपये लूट कर भागे बदमाश

पटना, एमएम : बिहार में अपराध कम होने का नाम नहीं ले रहा है। या यूँ कहें की बिहार में अपराध का व्यापार फलता फूलता जा रहा है। ऐसा कोई दिन नहीं जब बिहार के किसी जिले से लूट, हत्या और बलात्कार के मामले सामने ना आता हो। सोमवार को राजधानी पटना में बदमाशों ने पीएनबी अनीसाबाद शाखा में डाका डाल दिया। बैंक कर्मियों व ग्राहकों को बंधक बनाने के बाद हथियारबंद बदमाश बैंक से 52 लाख 38 हजार रुपये लूट ले गये। इनमें 52 लाख 33 हजार 500 रुपये बैंक के व 4 हजार 600 रुपये बेउर के ही एक ग्राहक कारोबारी नीतेश कुमार के थे। वारदात को अंजाम देने के बाद सभी बदमाश अलग-अलग बाइक पर सवार होकर भाग गये। घटना की सूचना पर आईजी रेंज संजय सिंह, एसएसपी उपेंद्र शर्मा तथा एफएसएल की टीम ने बैंक में करीब एक घंटे तक जांच की। बदमाशों की तलाश में पुलिस ने शहर भर में नाकेबंदी की लेकिन बदमाश पकड़े नहीं जा सके।

बतादें कि अनीसाबाद पीएनबी की जिस शाखा में दिनदहाड़े डकैती डाली गई वह अति व्यस्त बाइपास पर सड़क के किनारे प्रथम तल पर मौजूद है। दोपहर करीब सवा तीन बजे बैंक में बैंक कर्मियों व ग्राहक समेत कुल 20 लोग मौजूद थे। इसी बीच अनीसाबाद की ओर से अलग-अलग बाइकों पर सवार होकर करीब एक दर्जन बदमाश आये। बदमाश हेलमेट व मास्क पहने थे। सभी के हाथ में असला था। बैंक के इर्द-गिर्द अपनी-अपनी बाइक खड़ी करने के बाद बदमाशों ने डकैती डालने के लिए बैंक में धावा बोला।

बदमाशों को देखकर बैंक गेट पर मौजूद होमगार्ड जवान ने उन्हें टोका। इस पर बदमाश उसकी पिटाई करने लगे और धक्का देकर बैंक के अंदर ले गये। बैंक में दाखिल होने के बाद बदमाशों ने अंदर से गेट बंद कर लिया। तीन बदमाश गेट के बाहर खड़े थे जबकि 9 बदमाश बैंक में मैनेजर समेत कर्मियों व ग्राहकों को डरा-धमका कर बंधक बना लिया। इसके बाद बदमाशों ने गोली मारने की धमकी देकर एक ग्राहक से बैंक में लगे सीसीटीवी कैमरे का तार कैंची से कटवा दिया। साथ ही कैमरे के दो डीबीआर को पटक कर तोड़ दिया। विरोध करने पर कर्मियों की पिटाई करते हुए बदमाश बैंक के चेस्ट रूम और काउंटर से 52 लाख 33 हजार 500 रुपये लूट लिये।

भागते वक्त बदमाशों ने बाहर से बैंक का गेट बंद कर दिया। बैंक कर्मियों के शोर मचाने पर आसपास के दुकानदार मौके पर पहुंचे और गेट खोलकर बैंक कर्मियों को मुक्त कराया। इसके बाद घटना की सूचना पर एसएसपी समेत बेउर, फुलवारीशरीफ समेत कई थानों की पुलिस फोर्स मौके पर पहुंची। बाद में एफएसएल की टीम भी पहुंची और बैंक में जांच कर अहम सबूत इकट्ठा किया।

आईजी ने गठित की एसआईटी
बैंक में हुई डकैती की घटना को गंभीरता से लेते हुए आईजी रेंज संजय सिंह ने एसआईटी गठित कर दी है। इसकी जिम्मेदारी सिटी एसपी बेस्ट अशोक मिश्रा को दी गई है। आईजी का कहना है कि वारदात में शामिल बदमाशों को जल्द से जल्द गिरफ्तार करने के निर्देश दिये गये हैं। घटना में बाहर के हाईप्रोफेशलन व लोकन गैंग के लुटेरों के कनेक्शन को खंगाला जा रहा है। फिलहाल मामले की तफ्शीश की जा रही है।

Leave a Reply