मुजफ्फरपुर में टूटा कदाने नदी का रिंग बांध, आधा दर्जन गांवों में फैला बाढ़ का पानी

मुजफ्फरपुर, एमएम : एक बड़ी खबर बिहार के मुजफ्फरपुर से मिल रही है। जहां  सकरा प्रखंड के गन्नीपुर बेझा पंचायत के मेहशी में कदाने नदी का रिंग बांध टूट गया। इससे रहीमपुर रक्सा सहित करीब आधा दर्जन गांवों में बाढ़ का पानी फैल गया। ग्रामीण सड़कों पर दो से तीन फीट पानी चढ़ गया। इससे सड़कों पर यातायात परिचालन बंद हो गया है। उधर, बागमती, गंडक और बूढ़ी गंडक नदी के जलस्तर में हल्की गिरावट आने के बावजूद बुधवार को जिले की तमाम नदियां खतरे के निशान से ऊपर बह रहीं हैं। वहीं बाढ़ का पानी लगातार नए इलाकों में फैलने से स्थिति अब भी गंभीर बनी हुई है।

दरभंगा का बाढ़ से बुरा हाल, गांव से शहर तक पानी ही पानी, बाढ़ पीड़ितों का हाल जानने पहुंचे मुख्यमंत्री नीतीश कुमार

उधर गंडक और बूढ़ी गंडक नदी के जलस्तर में हल्की गिरावट आने के बावजूद बुधवार को जिले की तमाम नदियां खतरे के निशान से ऊपर बह रहीं हैं। वहीं बाढ़ का पानी लगातार नए इलाकों में फैलने से स्थिति अब भी गंभीर बनी हुई है। बाढ़ का प्रभाव जिले के 14 प्रखंडों तक पहुंच गया है। करीब 14 लाख की आबादी प्रभावित है। मुरौल, सकरा, सरैया, मुशहरी, मीनापुर के इलाकों में स्थिति गंभीर बनी हुई है।  प्रशासनिक स्तर पर राहत और बचाव कार्य जारी है। डीपीआरओ कमल सिंह ने बताया कि स्थिति पर नजर रखी जा रही है। प्रशासनिक टीम पूरी मुस्तैदी के साथ काम कर रही है। उधर, बूढ़ी गंडक के जलस्तर में कमी आई है। लेकिन अब भी यह नदी खतरे के निशान से .99 मीटर ऊपर बह रही हैं। इसके अलावा बागमती, गंडक और लखनदेई नदी भी खतरे के निशान से ऊपर बह रही है।

Leave a Reply