खिलाडियों को विदेशी लीग में खेलने की इजाजत दे बीसीसीआई : हरभजन सिंह

दिल्ली, न्यूज़ डेस्क, एमएम : कोरोना संकट के बीच मानो जिन्दगी थम सी गई है। कोई भी ऐसा सेक्टर नहीं जिसमे मंदी की मार ना झेल रहा हो। ऐसे मे क्रिकेट भी अब इससे अछूता नहीं रहा। इस साल आईपीएल भी कोरोना का भेंट चढ़ता नजर आ रहा है। ऐसे में क्रिकेटर करें भी तो क्या। दिग्गज स्पिनर हरभजन सिंह ने बीसीसीआई से कहा है कि भारतीय खिलाड़ियों को विदेशी लीग में खेलने की अनुमित देनी चाहिए। हरभजन ने भारतीय क्रिकेटिंग बोर्ड से अनुरोध किया कि ऐसी कोई व्यवस्था तैयार की जाए, जिससे भारतीय खिलाड़ी विदेशी लीग में खेलने की इजाजत ले सकें।

पूर्व क्रिकेटर आकाश चोपड़ा के यूट्यूब चैनल पर हरभजन ने कहा, ”बीसीसीआई को गैर अनुबंधित खिलाड़ियों को विदेशी लीग में खेलने की इजाजत देनी चाहिए, जिन्हें भारतीय टीम में नहीं चुना जा रहा है। आपको कोई ऐसा सिस्टम तैयार करना चाहिए, जिसमें 50 टेस्ट खेल चुके या 35 साल से ऊपर के खिलाड़ी बोर्ड से अनुमति ले सके।”

जानकारी के लिए बतादें इससे पहले सुरेश रैना और पूर्व पेसर इरफान पठान भी विदेशी लीग में भारतीय खिलाड़ियों को खेलने देने का पक्ष ले चुके हैं। भारतीय टीम के पूर्व तेज गेंदबाज इरफान पठान और बल्लेबाज सुरेश रैना ने कहा था कि बीसीसीआई को उन खिलाड़ियों जिनका अनुबंध राष्ट्रीय टीम के साथ नहीं है, उन्हें विदेशी लीगों में खेलने के लिए अनुमति दे देनी चाहिए। इरफान पठान ने खेल के सभी प्रारूपों से संन्यास ले लिया है। वहीं, सुरेश रैना अभी भी राष्ट्रीय टीम में वापसी की आस लगाए बैठे हैं। उन्होंने अपना आखिरी अंतरराष्ट्रीय मैच जुलाई-2018 में खेला था।

सुरेश रैना ने कहा है की बीसीसीआई आईसीसी और फ्रेंचाइजियों के साथ मिलकर इस बात को लेकर रणनीति बनाएगी कि जो खिलाड़ी राष्ट्रीय टीम से अनुबंधित नहीं हैं उन्हें बाहर खेलने की मंजूरी दी जाए। कम से कम हमें दो अलग-अलग विदेशी लीगों में खेलने की अनुमति तो मिल ही सकती है। अगर हम विदेशी लीगों में अच्छा कर सके तो यह हमारे लिए अच्छा होगा। काफी अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ियों ने इन लीगों में खेल कर वापसी की है।

Leave a Reply