मुजफ्फरपुर में बाढ़ विस्थापितों ने किया पुलिस पर हमला, थानाध्यक्ष समेत चार घायल

मुजफ्फरपुर, एमएम : बिहार में लोग एक तरफ कोरोना से परेशान हैं तो दूसरी तरफ बाढ़ ने तबाही मचा रखी है। लोगों का जीना मुहाल हो रहा है। इस बीच मुजफ्फरपुर के सकरा प्रखंड के विष्णुपुर बघनगरी गांव के बाढ़ विस्थापितों ने बुधवार की रात सड़क जाम हटाने गई स्थानीय पुलिस पर हमला कर दिया। आक्रोशितों की भीड़ ने तोड़फोड़ करते हुए न सिर्फ दो पुलिस वाहनों को क्षतिग्रस्त कर दिया, बल्कि उनके हमले में थानाध्यक्ष, एक सैप जवान और दो होमगार्ड के जवान भी घायल हो गये।

सूत्रों की माने तो हमलावरों ने थानाध्यक्ष की पिस्टल भी छीन ली। पूरे घटना क्रम से एनएच 28 पर रात नौ से 11 बजे तक अफरातफरी की स्थिति बनी रही। बतादें कि शाम का भोजन न मिलने से नाराज बाढ़ से विस्थापितों ने सड़क जाम किया था।

स्थिति अनियंत्रित होने पर सकरा पुलिस गाड़ी छोड़कर पीछे हट गई। सिर फटने से घायल थानाध्यक्ष रामनाथ प्रसाद समेत सैप जवान रामजी सिंह, होमगार्ड जवान मो बच्चे और दीपलाल बैठा को सकरा अस्पताल में भर्ती कराया गया। प्रारंभिक इलाज के बाद इन्हें एसकेएमसीएच मुजफ्फरपुर रेफर कर दिया गया है। तीन जवानों में एक का हाथ और दो के पैर टूटने की बात बताई जा रही है।

पंचायत के मुखिया के पति जीतू मिश्रा के मुताबिक विष्णुपुर बघनगरी गांव के करीब एक सौ महादलित बाढ़ विस्थापित एनएच पर शरण लिये हैं। शाम में भोजन नहीं मिलने से वे आक्रोशित थे। सबने सड़क जाम कर दिया। तब सूखा भोजन वितरण शुरू किया गया। वे हंगामा करने लगे। एनएच जाम की सूचना पर सकरा पुलिस पहुंची। भीड़ और उग्र हो गई। पुलिस समझाने की कोशिश कर रही थी। इसी बीच पुलिस और विस्थापितो में झड़प हो गई।

वहीं बाढ़ विस्थापितों का कहना है कि भोजन नहीं मिलने पर हमने सड़क जाम किया था। अचानक सकरा पुलिस पहुंची और बाढ़ पीड़ितों पर लाठीचार्ज कर दी। बीच बचाव में पुलिस और बाढ़ प्रभावित घायल हुए हैं ।घटना की सूचना दारोगा रामउदय शर्मा ने एसएसपी और एएसपी पूर्वी को तत्काल दी। उसके बाद पहुंची अतिरिक्त पुलिस ने स्थिति को संभालने का प्रयास किया।

Leave a Reply