केंद्रीय गृह राज्यमंत्री नित्यानंद राय का दावा, 220 सीटें जीतेगा एनडीए, लोजपा को लेकर चल रही अटकलों को भी किया ख़ारिज

पटना, एमएम : बिहार में इस साल के अंत तक विधानसभा चुनाव होने वाले हैं। सियासी मैदान में अटकलों का बाजार गर्म होते जा रहा है। दोनों गठबंधन में अंदरखाने सब कुछ ठीक है ऐसा नहीं लग रहा है। महागठबंधन में सहयोगी दलों का रवैया अब सामने आ रही है। वहीं बिहार में एनडीए के अंदर लोजपा की नाराजगी की बातें बार-बार आ रही हैं। इसकी आशंका को  बिहार भाजपा के वरीय नेता व केंद्रीय गृह राज्‍य मंत्री नित्‍यानंद राय ने ख़ारिज का दिया। उन्‍होंने कहा कि एनडीए के अंदर किसी तरह का मतभेद नहीं है। उन्‍होंने कहा कि कांग्रेस-राजद मिलकर अफवाह फैलाने की कोशिश कर रहे हैं कि एनडीए के भीतर सबकुछ ठीक नहीं है। उन्होंने जोर देकर कहा कि यह सिवाय अफवाह के अलावा कुछ भी नहीं है। एनडीए के भीतर सबकुछ ठीक है और आगामी बिहार विधानसभा चुनाव हम मिलकर लड़ेंगे। केंद्रीय गृह राज्य मंत्री वर्चुअल रैली को संबोधित कर रहे थे।

नित्‍यानंद राय ने कहा कि कांग्रेस के राज्यसभा सांसद अखिलेश प्रसाद सिंह ने हाल ही में राहुल गांधी के साथ हुई वीडियो कांफ्रेंसिंग में कहा कि एनडीए की घटक लोक जनशक्ति पार्टी के रामविलास पासवान उनके संपर्क में हैं। आलाकमान उन्हें समय नहीं दे पा रहा है। पासवान संभावित गठबंधन पर चर्चा करना चाहते हैं। उन्होंने कहा कि अखिलेश सिंह के इस दावे के बाद बिहार में राजनीतिक माहौल गरमा गया था कि बिहार में विधानसभा चुनाव के पूर्व लोजपा एनडीए छोड़ सकती है।

केंद्रीय गृह राज्य मंत्री ने यह भी कहा कि वे राजद-कांग्रेस के नेताओं को बताना चाहते हैं कि उन्हें अफवाह न फैलाकर अपने सहयोगियों के साथ संधि की चिंता करनी चाहिए। उन्होंने दोहराया है कि एनडीए एक है और 2010 के विधानसभा चुनाव के प्रदर्शन को हम 2020 में दोहराएंगे। नित्यानंद राय ने दावा किया कि हम सिर्फ अच्छा प्रदर्शन ही नहीं करेंगे, बल्कि 220 से अधिक सीटें भी जीतेंगे और नीतीश कुमार के नेतृत्व में एक बार फिर बिहार में सरकार बनेगी।

बतादें कि पिछले दिनों कांग्रेस के वरीय नेता अखिलेश सिंह ने यहां तक कह दिया कि चिराग कांग्रेस में आ जाए, उन्‍हें सीएम का चेहरा बनाया जाएगा। इसके बाद बिहार की सियासत गरमा गई थी।

Leave a Reply