सुशांत केस LIVE अपडेट: रिया के पिता से तीसरे दिन भी सीबीआई की पूछताछ जारी, शोविक को ईडी ने बुलाया, 9 सितंबर तक एनसीबी की कस्टडी में जैद

मुंबई/दिल्ली,एमएम : अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में सीबीआई जांच का आज 14वां दिन है। सीबीआई लगातार इस केस से जुड़े हरेक से पूछताछ कर रही है। आज फिर से इस मामले की मुख्य आरोपी रिया चक्रवर्ती के पिता इंद्रजीत चक्रवर्ती और सुशांत के स्टाफ नीरज और केशव समेत मामले से जुड़े अन्य गवाहों से पूछताछ कर रही है। इससे पहले सीबीआई की टीम रिया चक्रवर्ती, रिया की मां और भाई शोविक से सवाल-जवाब कर चुकी है। इधर प्रवर्तन निदेशालय की भी जांच जारी है।

LIVE अपडेट

इस केस में ड्रग कनेक्शन की जांच को लेकर नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो लगातार एक्शन में है।  ईडी की भी जांच जारी है। मंगलवार को मुंबई से गिरफ्तार किए गए ड्रग पेडलर जैद विलात्रा को 9 सितम्बर तक एनसीबी की कस्‍टडी में भेज दिया गया है। पूछताछ में जैद ने ही रिया के भाई शोविक का नाम लिया था। इसके अलावा बुधवार को एनसीबी ने एक और ड्रग पेडलर अब्दुल बसित परिहार को बांद्रा से गिरफ्तार किया था है। इसका सैमुअल मिरांडा से संबंध था। सैमुअल मिरांडा पर रिया चक्रवर्ती के भाई शौविक चक्रवर्ती के कहने पर ड्रग्स खरीदने का आरोप है।

ड्रग पैडलर जैद को 9 सितंबर तक नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो की कस्टडी में भेज दिया गया है।

 

सुशांत के दोस्‍त और बिजनेस पार्टनर वरुण माथुर से ईडी दफ्तर में पूछताछ की जा रही है। ईडी ने माथुर को पूछताछ के लिए समन भेजा था। वरुण माथुर सुशांत की कंपनी ‘INNSAEI Venture Private Limited’ में डायरेक्टर थे। माथुर को प्रवर्तन निदेशालय के सामने मनी लॉन्ड्रिग केस की जांच के सिलसिले में हाजिर होना पड़ा।

रिया चक्रवर्ती के भाई शोविक से भी ईडी फिर से पूछताछ कर रही है। ईडी ने इससे पहले रिया, उनके भाई शोविक, पिता इंद्रजीत, सुशांत के एक्स-मैनेजर श्रुति मोदी, उनके फ्लैटमेट सिद्धार्थ पिठानी सहित कई अन्य के बयान दर्ज चुकी है।

इधर सुशांत के पिता केके सिंह के वकील विकास सिंह ने गुरुवार को कहा कि, परिवार पहले ये मान रहा था कि ये आत्महत्या है लेकिन अब परिवार को निश्चित रूप से संदेह है कि यह आत्महत्या नहीं बल्कि हत्या है।

सीबीआई सुशांत के स्टाफ नीरज और केशव से डीआरडीओ गेस्ट हाउस में पूछताछ कर रही है।

सुशांत सिंह राजपूत केस में एक पक्ष की ओर से मुंबई पुलिस की कार्यशैली पर शुरू से ही सवाल उठाए जा रहे हैं। मुंबई पुलिस की छवि पर उठ रहे सवालों के बीच मुंबई के आईपीएस अधिकारियों ने बॉम्बे हाईकोर्ट में एक जनहित याचिका दायर की और सुशांत सिंह केस में मीडिया ट्रायल पर रोक लगाने की मांग की गई है। इस कदम का महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख ने भी स्वागत किया है।

समाचार एजेंसी एएनआई क मुताबिक, महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख ने कहा कि भारत में महाराष्ट्र और मुंबई पुलिस का नाम है। स्कॉटलैंड यार्ड से महाराष्ट्र पुलिस की तुलना की जाती है। सुशांत सिंह केस में जिस तरह मुंबई पुलिस को निशाना बनाया गया, उसके बारे में सेवानिवृत्त IPS अधिकारी ने जो याचिका दाखिल की है, उसका मैं स्वागत करता हूं।

सुशांत सिंह राजपूत मामले में सीबीआई की जांच जारी है, इस बीच अभिनेता के पिता केके सिंह का एक बयान सामने आया है। सुशांत सिंह राजपूत के पिता केके सिंह ने अपने बयान में मुंबई पुलिस से कहा था कि ‘ हो सकात है उनके बेटे ने उदासी (निराशा) की वजह से आत्महत्या कर ली’। मुझे सुशांत की मौत को लेकर किसी से कोई शिकायत नहीं है। बता दें कि सुशांत के पिता केके सिंह ने शुरू में पटना में एक एफआईआर दर्ज कराई थी और जिसमें उन्होंने रिया चक्रवर्ती पर सुशांत सिंह को आत्महत्या के लिए उकसाने का आरोप लगाया।

उन्होंने कहा कि मैं सुशांत को व्हाट्सऐप पर मैसेज भेजता था और वह उसी पर रिप्लाई करता था। इधर, केके सिंह के वकील विकास सिंह ने बुधवार को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस की, जहां उन्होंने हालिया इंटरव्यू में रिया चक्रवर्ती द्वारा किए गए दावों और समाचार चैनलों द्वारा किए गए विभिन्न दावों को लेकर अपना पक्ष साझा किया।

उन्होंने कहा, ‘परिवार ने कभी भी ऐसा बयान नहीं दिया कि सुशांत की मौत आत्महत्या की वजह से हुई है। ये बयान मुंबई पुलिस ने मराठी में दर्ज किए थे। उस वक्त परिवार ने भी आपत्ति जताई थी और कहा था कि अगर आप हमारा सिग्नेचर चाहते हैं तो बयान कृपया मराठी में न लिखें। उन्हें मराठी में लिखे गए एक बयान पर हस्ताक्षर करने के लिए मजबूर किया गया। उन्हें जरा भी इस बात की भनक नहीं थी कि मराठी में क्या बयान लिखा जा रहा है।

सुशांत सिंह राजपूत केस की जांच सीबीआई कर रही है। इस मामले में हर रोज नए राज खुल रहे हैं। उधर सुशांत के निधन के बाद उन पर फिल्म बनाने की होड़ मची हुई है। अभी तक दो फिल्मों के पोस्टर सामने आ चुके हैं, जिनके नाम है ‘शशांक’ और ‘सुसाइड या मर्डर’। इन फिल्मों को कथित तौर पर सुशांत के जीवन से प्रेरित बताया जा रहा है। इस बीच सुशांत के पिता केके सिंह के वकील विकास सिंह ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा है कि परिवार की मंजूरी के बिना एक्टर पर कोई फिल्म नहीं बनाई सकती है।

वकील विकास सिंह ने कहा, ”सुशांत सिंह राजपूत के पिता और बहनों ने फैसला किया है कि बिना उनकी सहमति के सुशांत पर ना तो कोई फिल्म या सीरियल बनेगा और ना ही कोई किताब लिखी जाएगी। अगर किसी को सुशांत पर फिल्म बनानी है तो पहले उनके पिता और परिवार को स्क्रिप्ट दिखानी होगी। उन्होंने आगे कहा कि अगर कोई इस फैसले के खिलाफ जाता है तो वह अपने रिस्क पर करें।

ऐसे में परिवार की अनुमति के बिना सुशांत पर फिल्म, सीरियल बनाने वाले या किताब लिखने पर उन्हें लीगल एक्शन का सामना करना पड़ा सकता है।

Leave a Reply