प्रधानमंत्री मोदी से सवाल करना पड़ा महंगा, ट्रोल हुए शत्रुघ्‍न सिन्‍हा, यूजर्स बोले- खामोश

पटना, एमएम : शत्रुघ्‍न सिन्हा नाम तो सुने ही होंगे आपलोग। कभी भाजपा के हुआ करते थे अब कांग्रेस के बनके रह गए हैं। बॉलीवुड के बिहारी बाबू बहुत दिन से खामोश थे। पटना साहिब के पूर्व सांसद व कांग्रेस नेता शत्रुघ्न सिन्हा को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से भारत-चीन सीमा विवाद पर सवाल किया। इसके बाद ट्विटर पर यूजर्स ने उन्‍हें जमकर ट्रोल कर दिया है। कई यूजर्स ने उन्‍हें उनका ही प्रसिद्ध डायलॉग ‘खामोश’ कहकर चुप रहने की नसीहत तक दे डाली।

शत्रुघ्न सिन्हा ने अपने ट्वीट में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को संबोधित करते हुए उनसे पूछा कि भारत-चीन की स्थिति पर इतना विरोधाभास क्यों हैं? लगता है कि देश इसे लेकर भ्रम की स्थिति में है, उसे नहीं पता कि किस पर विश्वास करे। प्रसिद्ध अभिनेता व राजनीतिज्ञ कमल हासन ने सही कहा है।

इसके बाद शत्रुघ्‍न सिन्‍हा के ट्वीट पर यूजर्स के तरह-तरह के कमेंट आने लगे। यह सिलसिला अभी तक जारी है।

– ट्विटर पर अभिषेक श्री (@AbhiasekS) ने शत्रुघ्‍न सिन्‍हा को कहा कि वे न सांसद हैं न विधायक और न किसी समवैधानिक पद पर। फिर उन्‍हें ऐसा क्यूं लगता है कि मोदी जी के पास इतना फालतू समय होगा कि वे बेकार सवालों के उत्तर दें?

– तेजस (@Tejas19826350) शत्रुघ्‍न सिन्‍हा के लिए लिखते हैं- ‘अबे खामोश।’ विजय शिव चंदेकर (@vjshiv702) भी कहते हैं, ‘खामोश, बाकी खुद समझ जाओ। और हां, मोदीजी को परामर्श देने की जरूरत नहीं।’

नीरज जोशी (@neerajkumar14) लिखते हैं कि अगर कोई विरोधाभाष है तो उसे सही प्‍लेटफार्म पर रखकर दूर कर लिया जाएगा। इसके लिए ट्विटर का प्‍लेटफार्म सही नहीं है। अभिनेता से नेता बने राजनीतिज्ञों के साथ समस्‍या यह है कि वे ‘एक्‍शन’ से शुरू होकर ‘कट’ पर समाप्‍त हो जाते हैं।

ऐसा नहीं कि सभी यूजर्स ने शत्रुघ्‍न सिन्‍हा को ट्रोल ही किया है। जयराम मोरे (@jairammore) ने समर्थन करते हुए शत्रुघ्‍न सिन्‍हा के विचार को उच्‍च बताया है। ऐसे और भी कई लोग हैं। हालांकि, ट्रोलर्स की संख्‍या अधिक है।

Leave a Reply