कानपुर एनकाउंटर पर राष्ट्रपति ने जताया दुःख, योगी ने किया 1-1 करोड़ के मुआवजे का एलान

लखनऊ, एमएम : उत्तरप्रदेश के कानपुर में गुरुवार देर रात हिस्ट्रीशीटर को पकड़ने गई पुलिस टीम पर बदमाशों ने ताबड़तोड़ फायरिंग कर दी। इसमें सीओ समेत आठ पुलिसकर्मी शहीद हो गए।  चार पुलिसकर्मी घायल भी हैं। घटना कानपुर में चौबेपुर थाना क्षेत्र के बिकरू गांव की है। यहां पुलिस बदमाश विकास दुबे को पकड़ने गई थी। वहीं बाद में पुलिस ने हमला करने वाले दो बदमाशों को मार गिराया है। वहीं देश के राष्ट्रपति और उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री  योगी आदित्यनाथ ने घटना में शहीद पुलिसकर्मियों को श्रद्धांजलि दी।

राष्ट्रपति ने ट्वीट में लिखा कि कानपुर में कर्तव्य पथ पर अपने प्राणों की आहुति देने वाले 4 अधिकारियों सहित 8 बहादुर पुलिसकर्मियों को मैं श्रद्धांजलि देता हूं और उनके परिवारों के प्रति हार्दिक संवेदना प्रेषित करता हूं।

मैं उन पुलिसकर्मियों की वीरता,साहस और बलिदान को नमन करता हूं। अपराधियों के साथ हुई इस भीषण मुठभेड़ में घायल सातों पुलिसकर्मी भी अपनी कर्तव्यनिष्ठा के लिए प्रशंसा के पात्र हैं।

वहीं उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कानपुर पहुँच कर कानपुर में कर्तव्यपालन के दौरान अपने प्राणों की आहुति देने वाले 8 पुलिस कर्मियों को भावभीनी श्रदांजलि दिया।

 

पुलिस कार्मिको की शहादत को शत् शत् नमन करते हुए मुख्यमंत्री ने इनके शोक संतप्त परिजनों के प्रति अपनी गहरी संवेदना व्यक्त की है। साथ ही सीएम ने रीजेंसी अस्पताल पहुंचकर घायलों का हाल जाना और उनकी बहादुरी को भी नमन किया है। मुख्यमंत्री ने पुलिस महानिदेशक को इस दुर्दांत घटना को अंजाम देने वाले अपराधियों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्यवाही करने तथा तत्काल मौके की रिपोर्ट उपलब्ध कराने के निर्देश दिए हैं।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कानपुर एनकाउंटर में शहीद हुए आठ पुलिसकर्मियों के परजिनों के लिए एक-एक करोड़ रुपए मुआवजे का ऐलान किया है। इसके साथ ही उन्होंने घोषणा की है कि प्रत्येक परिवार से एक-एक व्यक्ति को सरकारी नौकरी दी जाएगी। साथ ही साथ असाधारण पेंशन की व्यवस्था भी की जाएगी।

माँ तो माँ होती है। फिर भी कलेजे पर पत्थर रख कानपुर कांड के मुख्य आरोपी विकास दुबे की मां ने कहा है कि मेरे बेटे ने बहुत बुरा किया है। मां सरला देवी ने दो टूक कहा कि उनका बेटा अपराधी है। उसे बहुत समझाया कि यह रास्ता छोड़ दो, लेकिन उसने किसी की नहीं सुनी। पुलिस उसे पकड़कर एनकाउंटर कर दे। न्यूज एजेंसी एएनआई से बातचीत में विकास दुबे की मां सरला देवी ने कहा, ‘अच्छा होगा कि अगर वह खुद सरेंडर कर दे। धोखे से भागता रहा तो पुलिस उसे एनकाउंटर में मार देगी। मैं तो कहती हूं कि पुलिस पहले पकड़ लो और फिर एनकाउंटर कर दे। उसने बहुत बुरा किया है।’

Leave a Reply