भारत-चीन सीमा पर जवानों ने किया योग, देशवासियों को दिया सीमा सुरक्षा का भरोसा

न्यूज़ डेस्क, एमएम : कोरोना वायरस वैश्विक महामारी के मद्देनजर रविवार को  अंतरराष्ट्रीय योग दिवस बिना लोगों के बड़े जमावड़े के डिजिटल मीडिया के माध्यम से मनाया गया। इस अवसर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने संदेश दिया। उन्होंने कहा कि योग से इम्युनिटी बढ़ाने में मदद मिलेगी। वहीं, योग दिवस दुनियाभर में पहली बार 21 जून 2015 को मनाया गया और तभी से हर वर्ष उस दिन को योग दिवस के तौर पर मनाया जाता है। इस साल की योग दिवस की थीम ‘घर पर योग और परिवार के साथ योग’ है और लोग 21 जून को सुबह सात बजे डिजिटल समारोह में शामिल हुए।

 उत्तराखंड में भारत-चीन सीमा और लद्दाख में आईटीबीपी के जवानों ने अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के मौके पर योग किया। इतनी ऊंचाई पर होते हुए भी हमारे जवानों ने पूरी तन्मयता के साथ योग किया। हमारे जवानों ने देह को यह भरोसा भी दिलाया की जब तक हमलोग सीमा पर हैं, देश की तरफ कोई बुरी नजर से देख भी नहीं सकता। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आह्वान पर हमरी सेना ने भी बढ़ चढ़ कर हिस्सा लिया।

Leave a Reply