दिल्ली के निगम बोध घाट पर अब पूरी रात हो सकेगा अंतिम संस्कार, उत्तरी दिल्ली नगर निगम का फैसला

दिल्ली, न्यूज़ डेस्क, एमएम : दिल्ली मे कोरोना नित नए आयाम को छू रहा है। दिल्ली मे कोरोना से मरने वालों की संख्या में लगातार बढ़ोतरी हो रहा है। ऐसे मे लाश के अंतिम संस्कार में भी दिक्कतें आ रही है। इसी को देखते हुए उतरी दिल्ली नगर निगम ने भी निगम बोध घाट (श्मसान) को शवों के अंतिम संस्कार के लिए पूरी रात खुला रखने का निर्णय लिया है। रात 10 बजे तक सीएनजी से जबकि देर रात पहुंचने वाले शवों का अंतिम संस्कार लकड़ियों से किया जा सकेगा। इस दौरान सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने सहित यहां पहुंचने वाले परिजन और कर्मचारियों के लिए पीपीई सूट पहनना अनिवार्य होगा। लगातार बिगड़ते हालात को देखते हुए निगम के आला अधिकारियों की टीम ने निगम बोध घाट का दौरा करने के बाद यह निर्देश दिए हैं।

इस कार्य में जुटे निगम की टीम के साथ साथ स्वयंसेवी संस्था से भी कहा गया है कि अंतिम संस्कार के दौरान किसी तरह की परेशानी न हो इसे ध्यान में रखते हुए सभी जरूरी इंतजाम रखें। शवों के अंतिम संस्कार के लिए तीन सीएनजी हैं जबकि शेष का लकड़ियों से अंतिम संस्कार किया जा रहा है। अधिकारियों के मुताबिक रात 10 बाद तक सीएनजी के जरिये जबकि देर रात पहुंचने वाले शवों का लकड़ियों से अंतिम संस्कार किया जाएगा। अंतिम संस्कार में शामलि होने वाले परिजनों के लिए भी पीपीई सूट पहनना अनिवार्य है। दो गज की दूरी बनाए रखने सहित सैनिटाइजेशन भी किया जा रहा है ताकि संक्रमण का खतरा न रहे।

Leave a Reply