लोजपा कार्यकर्ता रहें हर परिस्थिति के लिए तैयार , नीतीश सरकार पर फिर साधा निशाना, कहा- स्‍पेशल स्‍टेटस ठीक, पर बढ़ाना होगा संसाधन : चिराग पासवान

दिल्ली, न्यूज़ डेस्क, एमएम : बिहार में चुनावी सुर ताल अब सुनाई देने लगा है। क्या पक्ष, क्या विपक्ष दोनों जगह बर्तन में खरबराहट सुनाई देने लगा है। महागठबंधन में तो घटक दलों के बीच सब कुछ ठीक नहीं है। ठीक उसी तरह एनडीए में भले उपर से सब कुछ ठीक दिखाई दे रहा हो लेकिन अंदरखाने कुछ हालात अच्छे नहीं दिख रहे हैं।  दरअसल लोजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष चिराग पासवान अपने प्रदेश कमेटी, जिलाध्यक्ष और जिलों के प्रभारी के साथ वर्चुअल बैठक को संबोधित कर रहे थे। इस बैठक में लोजपा अध्यक्ष चिराग पासवान ने अपने पार्टी नेताओं को किसी भी परिस्थति के लिए तैयार रहने का कहा। साथ ही कहा चुनाव को लेकर  हमें अपनी तैयारी पूरी रखनी है। लोजपा नए बिहार के शिल्पकार की भूमिका में रहेगी। सच्चा लोजपाई वही होगा जो बेहतर बिहार बनाने के लिए काम करेगा।

चिराग का किसी भी परिस्थिति के लिए तैयार रहने की बात का राजनीतिक हलकों में अब मायने निकाला जा रहा है। एनडीए में भले ऊपर से सब ठीक दिख रहा हो लेकिन सीटों की संख्या को लेकर लोजपा की नाराजगी सामने आने लगी है। कई नेता चिराग के संबोधन को उसीसे जोड़कर देख रहे हैं। भीतरखाने मिल रही खबर के अनुसार लोजपा को एनडीए में 30 से 35 सीटें देने की ही बात चल रही है जबकि लोजपा का दावा है कि जिन 42 सीटों पर पिछले चुनाव में लोजपा उम्मीदवार मैदान में थे उससे कम पर बात कैसे हो सकती है। साथ ही, पशुपति कुमार पारस की जगह एक एमएलसी सीट पर भी पार्टी ने दावा किया था।

इसी बैठक में चिराग पासवान ने एक बार फिर अपने पुराने अंदाज में नीतीश सरकार पर हमला बोलते हुए कहा है कि बिहार को विशेष राज्‍य का दर्जा ठीक है, लेकिन राज्‍य को अपना संसाधन भी बढ़ाना होगा। मतलब साफ समझ में आ रहा है चिराग ने सीटों को लेकर खटास की संभावना पर सीधे-सीधे तो कुछ नहीं कहा, लेकिन पार्टी नेताओं को संकेत में बताया कि किसी भी परिस्थिति में हमें चुनाव के लिए तैयार रहना है। अपने पुराने तेवर में चिराग अप्रत्यक्ष तरीके से राज्य सरकार पर हमलावर दिखे। हाल ही में उन्होंने कहा था कि उन्हें मजबूरी में बोलना पड़ता है, क्योंकि उन्हें जवाब नहीं मिलता।

चिराग ने कहा कि जल्द विधान सभा के स्तर पर डिजिटल रैली और प्रदेश स्तर पर वर्चूअल तरीके से रैली की जाएगी। प्रदेश अध्यक्ष प्रिन्स राज के साथ दलित सेना के प्रदेश अध्यक्ष अम्बिका प्रसाद बीनू मौजूद थे।

Leave a Reply