वैशाली में चल रहा था अवैध गन फैक्ट्री, हथियारों का जखीरा देख पुलिस के उड़े होश

वैशाली, एमएम : कहने को तो बिहार में बहार है नितीशे कुमार है। लगातार 15 वर्षों से राज्य के सत्ता में बैठे भाजपा जदयू की सरकार तो राज्य में सुशाषण का दावा भरते रहते हैं। लेकिन बिहार में अपराध का बोल बाला थमने का नाम नहीं ले रहा है। रोजाना हत्या, लूट, छिना झपटी, बलात्कार के मामले सामने आते ही रहते हैं।

पहले तो मुंगेर को अवैध हथियार बनाने का ठिकाना माना जाता था। अब तो बिहार के दुसरे जिले में भी हथियार बनाने वाली फैक्ट्री पकड़ी जा रही है। ताजा मामला वैशाली जिला का है। जिले के कटहरा ओपी क्षेत्र के चचपैठ चकौलिया गांव में बिहार व पश्चिम बंगाल एसटीएफ, मुजफ्फरपुर और वैशाली पुलिस की संयुक्त कार्रवाई में सालों से चल रही अवैध हथियारों की एक बड़ी फैक्ट्री का भंडाफोड़ किया गया। फैक्ट्री में छापेमारी के बाद मिली अर्धनिर्मित पिस्टलों को देख पुलिस के होश उड़ गए। फैक्ट्री से भारी संख्या में अर्धनिर्मित पिस्तौल मिले हैं।

इनके अलावा पिस्टल की बॉडी,157 पिस्टल की स्लाइड, 48 पिस्टल की बॉडी, 43 अर्धनिर्मित पिस्टल बॉडी, 142 बॉडी प्लेट, 22 रॉड, कट्टा, दो कारतूस एवं पांच मोबाइल बरामद किए गए। पुलिस छापेमारी के दौरान पूरे इलाके में हड़कंप मचा रहा।

इस मामले में पुलिस ने सात लोगों को गिरफ्तार किया है, जिसमें वैशाली जिले के तीन, मुंगेर जिले के तीन और जुमई का एक व्यक्ति शामिल है।  जिले के पुलिस अधीक्षक गौरव मंगला ने बताया कि सूचना मिली कि कटहरा ओपी क्षेत्र में अवैध हथियारों की फैक्ट्री चल रही है। कटहरा ओपी में एफआइआर दर्ज कर कई बिन्दुओं पर जांच की जा रही है।

जानकारी के अनुसार कटहरा ओपी के चपैठ गांव में अवैध रूप से हथियार बनाने की सूचना पर रविवार की दोपहर छापेमारी से पूर्व सादे लिबास में आए पुलिसकर्मियों ने एक किलोमीटर की एरिया की नाकेबंदी की थी। उसके बाद टीम के सदस्य गांव के ही मोहम्मद शफी अहमद के पुत्र मोहम्मद अकाली मियां उर्फ मोहम्मद साहेब रजा के घर में पहुंचे।

साहब के घर के चारों तरफ 10 फीट ऊंची बाउंड्री वाल है जिस कारण अंदर की गतिविधियों की खबर बाहर के लोगों को नहीं हो पाती थी। मात्र एक गेट है। पुलिस द्वारा लगभग 2 घंटे से अधिक समय तक छापामारी की गई। पुलिस ने घर से चार लेथ मशीन भी बरामद की हैं।

छापेमारी में मोहम्मद साहेब रजा के अलावा उसके दो बेटे मोहम्मद आसिफ रजा , मोहम्मद सर्फे आलम को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। इसके अलावा मुंगेर के तीन कारीगर मो. लड्डन, मो. लल्लन, मो. परवेज एवं जमुई के मो. अफरोज जो मो. साहेब रजा के घर रहकर ही हथियार बनाते थे, को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया।

Leave a Reply