दिल्ली-एनसीआर में लगातार 9वें दिन बढ़े पेट्रोल-डीजल के दाम, लोगों के जेब पर पड़ रहा है असर

नई दिल्ली, एमएम : दिल्ली में पेट्रोलियम पदार्थो के दाम में लगातार पिछले 9 दिन से उछाल देखने को मिल रहा है। दिल्ली-एनसीआर समेत पूरे देश में कोरोना वायरस संक्रमण के बीच पेट्रोल और डीजल के दामों में लगातार इजाफा होना लोगों के दुःख का सबब बनता जा रहा है। इस कड़ी में लगातार 9वें दिन सोमवार को देश की राजधानी दिल्ली समेत सभी चारों महानगरों मुंबई, चेन्नई और कोलकाता में भी पेट्रोल-डीजल के दाम में इजाफा किया गया है।

समाचार एजेंसी एएनआइ के मुताबिक, दिल्ली में सोमवार को पेट्रोल के दाम में 0.48 पैसे प्रति लीटर का इजाफा हुआ है। इसके बाद पेट्रोल 76.26 रुपये प्रति लीटर बिक रहा है। वहीं , दिल्ली में डीजल के दाम में 0.59 पैसे प्रतिलीटर इजाफे के बाद यह 74.62 रुपये प्रति लीटर मिल रहा है।

तेल विपणन कंपनियों की मानें तो लॉकडाउन के दौरान बिक्री 90 फीसदी तक गिर गई। केंद्र सरकार ने पेट्रोल पर 10 रुपये प्रति लीटर और डीजल पर 13 रुपये उत्पाद शुल्क बढ़ा दिया है, जिसके चलते कंपनियों को घाटा पूरा करने के लिए पेट्रोल-डीजल के दाम बढ़ाने पड़ रहे हैं।

लॉकडाउन में हुए घाटे को पाटने के लिए तेल विपणन कंपनियां जून में पेट्रोल-डीजल के दाम 5 रुपये तक बढ़ा सकती हैं। इसके अलावा कंपनियां अगले महीने से कीमतों में रोजाना बदलाव की व्यवस्था को दोबारा बहाल करने की भी तैयारी में हैं। उनका कहना है कि लॉकडाउन में कम बिक्री के साथ सरकारों ने भी टैक्स बढ़ा दिया जिससे लागत और बिक्री में काफी अंतर आ गया है।

सूत्रों की मानें तों सरकारी तेल विपणन कंपनी पिछले दिनों खुदरा तेल विक्रेताओं ने बैठक कर मौजूदा स्थिति का आकलन किया था। इसके बाद लॉकडाउन खत्म होने के बाद कीमतों में रोजाना बदलाव की व्यवस्था शुरू करने का रोडमैप तैयार किया था। इसी के तहत लगातार 9वें दिन पेट्रोल-डीजल के दामों में इजाफा हुआ है। वहीं कंपनियों का कहना है कि पेट्रोल-डीजल में लागत और बिक्री का अंतर कम करने के लिए पेट्रोल-डीजल के दाम बढ़ाए जा रहे हैं।

Leave a Reply