बिहार में लुटेरों के निशाने पर बैंक, एक ही दिन में दो बैंकों में नौ लाख का डाका

पटना, एमएम : बिहार में एक तरफ नीतीश सरकार सुशासन होने का बात करते नहीं थकते तो दूसरी तरफ अपराध कम होने का नाम नहीं ले रहा है। आए दिन कहीं  सरेआम बैंक में डाका पड़ता है तो कहीं व्यवसायी को लूट लिया जाता है। अब तो गांवों कस्बों में भी अपराध पर कोई लगाम नहीं दिखाई दे रहा है। या यूँ कहें कि बिहार में अपराध एक उद्द्योग बन गया है। और यह बहुत तेजी से फल फूल रहा है। कल यानि मंगलवार को दो बैंकों में डकैती हुई। पहली वारदात बक्सर जिले में तो दूसरी वैशाली में। पहली वारदात बक्सर जिले के मुफ्फसिल थाना क्षेत्र अंतर्गत बैंक ऑफ इंडिया की महदह शाखा से बीच दोपहर में चार लाख 61 हजार रुपये लेकर डकैत भाग निकले। हैरानी की बात है कि लूट की पूरी घटना को अपराधियों ने मात्र एक मिनट के अंदर अंजाम दे दिया। बिहार में दूसरी वारदात वैशाली जिले में सराय थाना क्षेत्र की है। सूरज चौक के समीप फिनो पेमेंट्स बैंक में दिनदहाड़े डकैती हुई। चार लाख रुपये लेकर बदमाश हवाई फायरिंग करते हुए चंपत हो गए।

पुलिस सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक बक्सर जिले में बाइक सवार आठ बदमाश महज एक मिनट में वारदात को अंजाम देकर निकल गए। बैंक के अलावा वे राहुल नामक ग्राहक से भी पांच हजार रुपये लूट लिए। उस समय दोपहर के एक बज रहे थे। जनरेटर चालक धर्मेंद्र को अपराधियों ने पकड़ लिया और मारपीट करते हुए बैंक के अंदर घुस गए। पांच अपराधी बैंक में घुसे और तीन बाहर रहे। कैशियर, कर्मचारियों और ग्राहकों को रिवाल्वर दिखाकर बैग में नकदी भर लिए। बताया कि अपराधियों ने बकायदा एक-एक सेकेंड का हिसाब कर रखा था और महज एक मिनट में वारदात को अंजाम देकर फरार हो गए। घटना के सूचना मिलने के बाद पुलिस मौके पर पहुँची और अभी जांच चल रहा है।

वहीं वैशाली जिला में बाइक सवार तीन बदमाशों ने वारदात को अंजाम दिया। फिनो बैंक की शाखा के बाहर तीन राउंड हवाई फायरिंग भी की। कैशियर विक्की कुमार के मुताबिक हथियार के बूते बदमाश मारपीट करने लगे। एक कर्मचारी को घायल कर दिए। बैंक का लॉकर तोड़कर चार लाख रुपये निकाल लिए। उसके साथ एक लैपटॉप और एक मोबाइल लेकर फरार हो गए। वारदात के बाद बैंक कर्मियों ने पुलिस को घटना की सूचना दी। जानकारी होने पर पहुंची पुलिस ने छानबीन शुरू की।

खबर लिखे जाने तक दोनों मामलों में कोई गिरफ्तारी नहीं हुई थी। हालांकि जिला प्रशासन जल्द ही अपराधियों को पकड़ लेने की बात कर रहा है। अपराधियों का इस तरह दिन दहाड़े डकैती को अंजाम दे देना निश्चित रूप से पुलिस पर सवालिया निशान तो है ही।

Leave a Reply