गृह मंत्रालय ने की वीरता पदकों की घोषणा , देखें पूरी लिस्ट

दिल्ली, एमएम : हर साल की तरह इस साल भी गृह मंत्रालय अलग-अलग राज्यों में असाधारण एवं उल्लेखनीय सेवा व योगदान के लिए जवानों के लिए मेडल का ऐलान कर दिया है।  गृह मंत्रालय ने शुक्रवार को पुलिस के उन साहसी वीरों के नामों वाली लिस्ट जारी की है जिन्हें स्वतंत्रता दिवस के मौके पर सम्मानित किया जाएगा।  जारी लिस्ट के मुताबिक 215 जवानों को गैलेंट्री अवार्ड, 80 को राष्ट्रपति का पुलिस मेडल और 631 जवानों को उनके सराहनीय कार्य के लिए मेडल से सम्मानित किया जाएगा। इसके अलावा ITBP ने गृह मंत्रालय के समक्ष उन 21 जवानों के नाम भी बहादुरी पदक के लिए अनुशंसा किए हैं जिन्होंने पूर्वी लद्दाख के गलवन घाटी में चीन का सामना पूरे साहस के साथ किया। बतादें कि राज्य सरकारें इन पुरस्कारों के लिए पुलिसकर्मियों के नाम की सिफारिश करती हैं।

इस बार असम के पांच, अरुणाचल प्रदेश के तीन, छत्तीसगढ़ के तीन जवानों के अलावा जम्मू कश्मीर महाराष्ट्र के भी वीर जवान सम्मान पाने में शामिल हैं।

पूर्वी लद्दाख में चीन का सामना करते हुए साहस और वीरता का प्रदर्शन किया था। उल्लेखनीय है कि जून माह में भारत तिब्बत सीमा पुलिस ने इन वीर जवानों को वीरता पदक देने की अनुशंसा की है। चीन के साथ हुए हिंसक संघर्ष में 20 भारतीय जवान शहीद हो गए थे।

साहस और बहादुरी के लिए पुलिस मेडल पाने वालों की लिस्ट में जम्मू-कश्मीर पुलिस को 81 और सीआरपीएफ को 51 पुलिस मेडल शामिल है। इसके अलावा वर्ष 2008 के बटला हाउस एनकाउंटर में शहीद मोहन चंद शर्मा को मरणोपरांत पुलिस मेडल से सम्मानित किया जाएगा।

जारी लिस्ट के अनुसार, जम्मू-कश्मीर पुलिस के तीन आईपीएस अधिकारियों संदीप (एसएसपी अनंतनाग), गुरिंदरपाल सिंह (एसपी कुलगाम) और अतुल कुमार गोयल (डीआईजी साउथ कश्मीर) को पुलिस मेडल दो और पुलिस अधिकारियों डीआईजी विधि कुमार बिर्दी एवं तेजिंदर सिंह (एसएसपी) को पीएमजी के फर्स्ट एवं सेकेंड बार का सम्मान मिला है।

Leave a Reply