बिहार विधान परिषद चुनाव के लिए नामांकन खत्म, एनडीए के पांचों उम्मीदवारों ने दाखिल किया नामांकन, कांग्रेस के समीर सिंह ने भी भरा पर्चा

पटना, एमएम : बिहार में विधान परिषद के नौ सीटों के लिए 6 जुलाई को चुनाव होना है। आज यानि 25 जून नामांकन भरने की अंतिम तिथि है। बुधवार को राष्ट्रीय जनता दल के तीनों प्रत्याशी अपना नामांकन दाखिल कर चुके हैं। गुरुवार को बिहार विधान परिषद के चुनाव के लिए जदयू के तीन और भाजपा के दो उम्मीदवारों ने नामांकन दाखिल कर दिया। इस दौरान मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी भी मौजूद रहे। नामांकन दाखिल करने के बाद सम्राट चौधरी ने कहा कि एक कार्यकर्ता के रूप में पार्टी के लिए कई सालों से काम कर रहा था। पार्टी ने जो जिम्मेदारी दी है उसे निष्ठा पूर्वक निभाऊंगा।

जदयू ने विधान परिषद चुनाव के लिए गुलाम गौस, कुमुद वर्मा और भीष्म सहनी को प्रत्याशी बनाया है। वहीं, भाजपा की तरफ से सम्राट चौधरी और संजय मयूख एमएलसी बनेंगे। बतादें कि संजय मयूख को पार्टी ने दोबारा मौका दिया है जबकि सम्राट चौधरी पहली बार पार्टी की ओर से उम्मीदवार बनाए गए हैं। विधानसभा में पार्टी सदस्यों की संख्या के हिसाब से सभी नेताओं की जीत पक्की है।

इधर बिहार विधान परिषद के लिए कांग्रेस की ओर से समीर सिंह ने नामांकन पत्र दाखिल किया। बतादें कि इससे पहले कांग्रेस ने अपने पूर्व घोषित उम्मीदवार को आनन फानन में बदल दिया। दरअसल घोषित उम्मीदवार तारिक अनवर का नाम बिहार के वोटर लिस्ट में नहीं है। जबकि नियम के मुताबिक, उम्मीदवार को बिहार का मतदाता होना चाहिए। नामांकन से ठीक पहले तकनीकि कारणों से कांग्रेस को नए प्रत्याशी समीर कुमार सिंह के नाम की घोषणा करनी पड़ी।

6 जुलाई को होना है चुनाव
बिहार विधान परिषद के 9 सीटों के लिए 6 जुलाई को चुनाव होना है। इसमें तीन सीटें जदयू, तीन राजद, दो भाजपा और एक कांग्रेस के खाते में जानी तय है। जानकारी के मुताबिक विधान परिषद में अभी 29 सीटें खाली है। इसमें 12 मनोनयन कोटा, 9 विधानसभा, चार शिक्षक निर्वाचन क्षेत्र और चार स्नातक निर्वाचन क्षेत्र के हैं। वर्तमान में जदयू के 20, भाजपा के 16, राजद के तीन, लोजपा और हम के एक-एक, कांग्रेस के दो और निर्दलीय दो विधान परिषद सदस्य हैं।

Leave a Reply