बिहार में बाढ़ : नहीं सुधर रहे हालात, गंडक बैराज से फिर छोड़े गए 2 लाख 12 हजार क्यूसेक पानी , गुरुवार को डूबने से 13 की मौत

पटना, एमएम : बिहार में पिछले चार दिन से बारिश हो रही है। नेपाल के तराई क्षेत्र में लगातार हो रहे बारिश ने उत्तर बिहार के लोगों का जीना मुहाल कर दिया है। राज्य के आपदा सचिव के मुताबिक अभी भी 77 लाख लोग बाढ़ग्रस्त हैं। 16 जिलों के 134 प्रखंडों की 1,271 पंचायतों में बाढ़ है। अब तक 77 लाख 18 हजार 788 लोग पीड़ित हुए हैं। कहीं कहीं हालात में सुधार देखने को मिल रहा है। इधर दरभंगा, समस्तीपुर, मुजफ्फरपुर और पूर्वी चंपारण में स्थिति अब भी अच्छी नहीं कही जा सकती

इधर वाल्मीकिनगर में गंडक बराज से 2 लाख 12 हजार क्यूसेक पानी का डिस्चार्ज गुरुवार की दोपहर तक किया गया। इससे तटवर्ती वन क्षेत्र समेत पड़ोसी राज्य उत्तर प्रदेश के समीपवर्ती क्षेत्रों में पानी का जमाव होने की आशंका बढ़ चली है। इससे ग्रामीणों की परेशानियां बढ़ गयी हैं।

गंडक बराज के अधिकारियों की माने तो नेपाल में हो रही लगातार बारिश से तराई और पहाड़ी क्षेत्रों में जनजीवन अस्त व्यस्त हो गया है। नेपाल से छूटे पानी के कारण गंडक बराज का जलस्तर गुरुवार की सुबह से लगातार बढ़ने के क्रम में है। उम्मीद जतायी जा रही है कि शुक्रवार देर शाम तक जल स्तर में और भी बढ़ोत्तरी हो सकती है। बताते चलें कि बीते दिनों से लगातार गंडक बराज के जलस्तर में उतार चढ़ाव देखने को मिल रहा है।

उधर बेगुसराय के खोदावंदपुर प्रखंड क्षेत्र में विगत एक माह से रुक-रुक कर हो रही बारिश एवं बूढ़ी गंडक के जल स्तर में वृद्धि से बांध से हो रहे रिसाव को लेकर कई घरों में पानी घुस गया है। जिससे लोगों को रहने-सहने में काफी कठिनाइयों का सामना करना पड़ रहा है। पीड़ित परिवार अपने ऊंची स्थानों वाले पड़ोसी एवं नजदीक सरकारी भवन में किसी तरह गुजर बसर करने को मजबूर हैं।

इधर उत्तर बिहार के विभिन्न जिलों में गुरुवार को अलग-अलग हादसों में 13 लोग डूब गये। मुजफ्फरपुर में सात, मधुबनी में तीन और पश्चिम चंपारण में तीन के डूबने की घटना से अफरातफरी मची रही। मुजफ्फरपुर में छह की मौत हो गई जबकि एक की तलाश जारी है। सकरा प्रखंड की रामपुरमनी पंचायत के मझौली पचदही गांव में बकरी चराने गए किशोर की डूबने से मौत हो गई। पश्चिम चंपारण के ठकराहां के मोतीपुर गांव की दो युवतियां पंचायत सरकार भवन के समीप सरेह में पोखरा के किनारे पानी में घास काटने गईं जहां डूब गई। वहीं बगहा एक प्रखंड की हरदी नदवा पंचायत के कौलाची गांव में सिकटी नदी में डूबने से बिन्दा साह के पुत्र राजू साह की मौत हो गई।
मधुबनी के अंधराठाढ़ी प्रखंड की मैलाम पंचायत स्थित तिलई गांव में तीन बच्चों की तालाब में डूबने से मौत हो गई। मृतकों की पहचान अमन  यादव  (9) पिता बौआजी यादव, रिंकी कुमारी (8) पिता काशी यादव, बबीता (07) पिता रंजीत यादव के रूप में हुई है।

Leave a Reply