राजद में बड़ी टूट, लालू के पांच विधानपार्षदों ने थामा जदयू का दामन

पटना, एमएम : बिहार में विधानपरिषद के चुनाव होने हैं। अभी जितने सीट खाली हुए हैं उसमें ज्यादातर सत्ताधारी दल के विधान पार्षद हैं। ऐसे में कुर्सी की चाहत तो सब को होती है। यही कारण है कि हरेक दलों में जोड़तोड़ चल रहा है। वैसे इस साल के अंत तक विधानसभा चुनाव भी होंगे। तो बहुत से लोग पाला  बदल सकते हैं। महागठबंधन में सब कुछ ठीक नहीं चल रहा है। कुछ ऐसा ही देखने को मिल रहा है कि सहयोगी दल तेजस्वी को नेता मानने को तैयार नहीं हैं।

इसी बीच बिहार विधानपरिषद चुनाव से पहले राजद को बड़ा झटका लगा है। राजद के पांच विधानपार्षद मंगलवार को राजद छोड़कर जदयू का दामन थाम लिया है। राजद के विधानपार्षद राधाचरण सेठ, दिलीप राय, कमरे आलम, संजय प्रसाद, रणविजय राय ये पांचो विधानपार्षद हैं जो जदयू में शामिल हो गए हैं।

बिहार विधानसभा चुनाव से पहले विधापरिषद का चुनाव होना है। चुनाव से पहले राजद को बड़ा  बड़ा झटका लगा है। चुनाव से पहले राजद के पांच विधान परिषद के सदस्यों ने जदयू का दामन थाम लिया है। जानकारी के मुताबिक विधान परिषद के सभापति अवधेश सिंह ने पांचों विधायकों के गुट को अलग मान्यता दे दी है।

आरजेडी के पांचों एमएलसी इस्तीफा देने के बाद सीएम आवास पहुंचे। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से सभी ने मुलाकात किया। राजद से इस्तीफा देने के बाद सभी एमएलसी जेडीयू में शामिल हो गए है।

मुलाकात के बाद आरजेडी से इस्तीफा देने वाले पांचों एमएलसी ने कहा कि हमें नीतीश कुमार पर भरोसा है। हमलोगों को कोई पद का लालच नहीं है। उनको नीतीश कुमार के नेतृत्व पर भरोसा है।

Leave a Reply