सुशांत सिंह की गर्लफ्रेंड रिया चक्रवर्ती के खिलाफ मुजफ्फरपुर में केस दर्ज, आत्महत्या के लिए उकसाने का है आरोप

मुजफ्फरपुर, एमएम :  सुशांत सिंह राजपूत के आत्महत्या करने के बाद बिहार में फ़िल्म इंडस्ट्री के प्रति लोगों में भारी गुस्सा है। जिस तरह से बिहारी प्रतिभाओं को मुंबई में दबाया जाता है ये किसी से छुपी नहीं है। पहले सलमान खान, करण जौहर एकता कपूर सहित आठ लोगों पर केस दर्ज करवाया गया। अब फिल्म अभिनेत्री रिया चक्रवर्ती के खिलाफ बिहार के मुजफ्फरपुर के मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी मुकेश कुमार के कोर्ट में शनिवार को परिवाद दाखिल किया गया है। यह परिवाद सदर थाना के पताही गांव के कुंदन सिंह ने दाखिल किया है। इसमें उन्होंने रिया चक्रवर्ती पर अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत को खुदकुशी के लिए उसकाने का आरोप लगाया गया है। कोर्ट ने परिवाद को सुनवाई के लिए रखा है। इसके लिए 24 जून की तारीख मुकर्रर की है।

परिवाद में कुंदन कुमार ने कहा है कि रिया चक्रवर्ती साजिश पूर्वक नफा नुकसान को ध्यान में रखकर पहले अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत को अपने प्रेम जाल में फंसा कर अपने विश्वास में ले लिया। जब उसे पूर्ण विश्वास हो गया कि सुशांत सिंह राजपूत उस पर पूरा भरोसा करने लगा तो उनका मानसिक व आर्थिक शोषण करती रही। उनके सहयोग से अपने फिल्मी कैरियर में उछाल लेती रही।

जब मकसद पूरा हो गया तो वह उन्हें जीवन से बाहर कर दिया। इसके साथ ही उन्हें खुदकुशी के लिए उसकाती रही। इस सदमा को वे बर्दास्त नहीं कर सके और खुदकुशी करने को मजबूर हो गए। 14 जून को वे गले में फंदा लगाकर खुदकुशी कर लिया। इसके लिए रिया चक्रवर्ती जिम्मेदार है। वे सुशांत सिंह राजपूत के प्रशंसक हैं। उनकी खुदकुशी से उन्हें गहरा आघात लगा है। जिससे वे सदमाग्रस्त हो गए हैं। इससे अब तक उबर नहीं पाए हैं।

बतादें कि इससे पहले एक्‍टर सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में मुजफ्फरपुर में वकील सुधीर कुमार ओझा ने सलमान खान व करण जौहर सहित अन्य के खिलाफ मुकदमा दाखिल किया है। कोर्ट ने इसकी सुनवाई के लिए तीन जुलाई की तारीख तय की है। मुकदमे के अन्य आरोपितों में बॉलीवुड की हस्तियां आदित्य चोपड़ा, शाजिद नाडियावाला,संजय लीला भंसाली, एकता कपूर, दिनेश विजया, टी-सीरीज के भूषण कुमार भी शामिल हैं। इसमें  कंगना रनौत और सुशांत सिंह राजपूत के पिता केके सिंह समेत चार लोगों को गवाह बनाया है। यह मामला भारतीय दंड संहिता (आइपीसी) की धारा 306, 109, 504 और 506 के तहत दर्ज कराया गया है।

Leave a Reply