कानपुर एनकाउंटर के दौरान पुलिस से लूटी AK 47 विकास दुबे के घर से बरामद, विकास के सहयोगी शशिकांत भी गिरफ्तार

लखनऊ, एमएम : कानपुर एनकाउंटर को हुए 12 दिन से ज्यादा होने वाले हैं। मुख्य आरोपी विकास दुबे भी पुलिस एनकाउंटर में मारा जा चुका है। लेकिन पुलिस के चिंता का सबब बन रहा था कि आखिर एनकाउंटर के दौरान पुलिस से लूटी गई AK47 और अन्य असला कहाँ है। यह एक रहस्य बना हुआ था। आखिरकार  पुलिस ने वो सारे हथियार बरामद कर लिए जो 2 जुलाई की रात कानपुर के बिकरू गांव में पुलिस मुठभेड़ के दौरान लूटी गई थी। इतना ही नहीं विकास दुबे का बांया हाथ कहें जाने वाला शशिकांत को भी पुलिस ने सोमवार देर रात गिरफ्तार कर लिया। बतादें कि शशिकांत के सिर पर 50 हजार रुपए का इनाम घोषित था। शशिकांत से पूछताछ के आधार पर मुठभेड़ में लूटी गई पुलिस की AK-47 रायफल, 17 कारतूस और इंसास रायफल के 20 कारतूस आदि बरामद कर लिए गए हैं।

अपर पुलिस महानिदेशक (कानून व्यवस्था) प्रशांत कुमार मंगलवार को मीडिया को हथियारों के बारे में जानकारी दी। एडीजी ने बताया कि बिकरू में दबिश देने गई टीम पर विकास ने अपने साथियों के साथ हमला बोल दिया था। 8 पुलिस कर्मियों की हत्या कर एके-47 और इंसास रायफल लूट ली थी। इसके साथ कारतूस भी लूटे गए थे। एसएसपी ने एसपी पश्चिम डॉ. अनिलकुमार और एसपी ग्रामीण को जांच के लिए लगाया था। एसओजी के साथ शिवराजपुर और रेल बाजार थाने की पुलिस काम कर रही थी। मुखबिर से सूचना मिली कि घटना में शामिल प्रेम कुमार पांडेय का बेटा फरार अपराधी बिकरू निवासी शशिकांत उर्फ सोनू पांडेय चौबेपुर क्षेत्र में देखा गया है। पुलिस ने निगरानी बढ़ाई और चौबेपुर कस्बे के मेला तिराहे के पास से रात करीब 2.50 बजे गिरफ्तार कर लिया

पुलिस ने कड़ाई से पूछताछ की तो उसने बताया कि पुलिस कर्मियों पर हमले में वह भी शामिल था। पुलिस की एके-47 और इंसास रायफल लूट ली गई थी। विकास दुबे ने एके-47 खुद कब्जे में ले लिया और इंसास रायफल उसे दे दिया था। पुलिस के मुताबिक शशिकांत ने जानकारी दी कि एके 47 विकास दुबे अपने घर में छिप कर भाग निकला था और उसने भी इंसास रायफल अपने घर में ही छिपा रखी है। शशिकांत की निशानदेही पर पुलिस ने एके-47 और 17 कारतूस विकास के घर से तथा उसके घर से इंसास के साथ 20 कारतूस बरामद कर लिया।

पुलिस सूत्रों की माने तो पूछताछ में शशिकांत ने बताया कि पुलिस पर हमला करने वालों में विकास दुबे के साथ अमर दुबे, अतुल दुबे, प्रेम कुमार, प्रभात मिश्रा, बउवन, हीरू, शिवम, जिलेदार, राम सिंह, उमेश चंद्र, गोपाल सैनी, अखिलेश मिश्रा, बिपुल, श्यामू बाजपेई, राजेंद्र मिश्रा, बाल गोविंद दुबे, दयाशंकर अग्निहोत्री शामिल थे। पुलिस ने इनमें से विकास दुबे, अमर दुबे, अतुल दुबे, प्रेम कुमार, प्रभात मिश्रा, बउवन को मुठभेड़ में मार गिराया है। वहीं दयाशंकर अग्निहोत्री को भी गिरफ्तार कर लिया है।

Leave a Reply