घरेलू कलह में गई ढाई माह के मासूम की जान, दादी ने जमीन पर पटक मार डाला

समस्तीपुर, एमएम : बिहार में घरेलु हिंसा में वृद्धि हो रही है। लोग घरेलु विवाद में भी एक दुसरे के जान लेने को आतुर होने लगे है। एक ऐसा ही ह्रदय विदारक घटना बिहार के समस्तीपुर जिले से मिल रही है। समस्तीपुर जिले के सिंघिया थाना क्षेत्र के मूसेपुर गांव मे पारिवारिक विवाद को लेकर शुक्रवार दोपहर ससुराल वालों ने विवाहिता की गोद से छीन कर महज ढाई माह के दूधमुंहे बच्चे को पटककर मार डाला। ससुरालवाले इतने पर ही नहीं माने टेंगारी से वारकर विवाहिता को जख्मी भी कर दिया।

घटना के बाद ग्रामीणों ने सभी आरोपी को घर में बंद कर दिया। घटना की सूचना मिलने पर पहुंची पुलिस ने सभी को गिरफ्तार कर लिया। वहीं जख्मी विवाहिता को इलाज के लिए सामुदायिक केंद्र सिंघिया में भर्ती कराया गया। जहां चिकित्सकों ने उसकी चिंताजनक स्थिति देख बेहतर इलाज के लिए डीएमसीएच रेफर कर दिया।

पुलिस के मुताबिक घायल कमलेश महतो की पत्नी नेहा कुमारी ने बताया कि पति के अलावा सास, ससुर, ननद और देवर ने उसे घर से भगाने का प्रयास किया। घर छोड़ जाने से इंकार करने पर सभी उसके साथ मारपीट करने लगे। इस दौरान उसकी गोद से ढाई माह के बेटे रितिक राय को छीनकर जमीन पर पटक दिया। उसके बाद वह बच्चे को उठाने गयी तो टेंगारी से सिर पर कई बार वार किया जिससे वह बेहोश हो गयी।

इस संबंध में थाना अध्यक्ष पंकज कुमार ने बताया कि बच्चे के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। इस मामले में पति, सास, ससुर, ननद समेत चार लोगों को हिरासत में ले लिया गया है। पीड़ित विवाहिता ने अभी किसी तरह का आवेदन नहीं दिया है। उन्होंने बताया कि पति पत्नी एक दूसरे को बराबर शक की निगाह से देखते थे। जिसको लेकर घर में बराबर विवाद होता रहता था। मामले की जांच शुरू कर दी गयी है। जल्द ही घटना के सही कारण का भी खुलासा हो जाएगा। पुलिस अभी मामले की जाँच में जुटी है।

Leave a Reply