फिर पूर्णिया से दिल्ली जा रही बस सकरी में डंफर से टकराई, हादसे में एक महिला की मौत, दर्जनों घायल

मधुबनी, एमएम : दिल्ली बिहार चल रही बस में एक बार फिर बड़ा हादसा हो गया है। मिल रही खबर के मुताबिक पूर्णिया से दिल्ली जा रही बस सकरी के पास एनएच 57 पर सकरी स्थित झंझारपुर-मधुबनी कट के निकट डंफर से टकरा गई। घटना गुरुवार की रात लगभग नौ बजे सकरी थाना क्षेत्र की है। इस दुर्घटना में बस पर सवार एक महिला की मौत हो गई। वहीं, मधेपुरा सिंघेश्वर स्थान निवासी पवन कुमार सिंह व समस्तीपुर कल्याणपुर निवासी मुकेश यादव समेत करीब एक दर्जन बस यात्री घायल हुए हैं। इनमें से कुछ का इलाज डीएमसीएच में चल रहा है, जबकि कई घायल इलाज करा पूर्णिया वापस चले गए। मृतका की पहचान पूर्णिया श्रीनगर निवासी साजन ऋषि की 22 वर्षीय पत्नी आशा देवी के रूप में हुई है। महिला अपने पति व बच्चे के साथ पूर्णिया से दिल्ली जा रही थी। दुर्घटना के समय महिला का एक साल का बेटा उसकी गोद में था जो ठोकर लगने के बाद दूर जा गिरा। गनीमत रहीं कि बच्चे को कोई हानि नहीं हुई। मृतका के पति साजन ऋषि ने बताया कि बस में करीब 60 से 70 यात्री सवार थे। कट के पास डंफर अचानक से मुड़ गया जिससे यह हादसा हुआ। बस चालक पूर्णियां के दियालगंज निवासी अमित कुमार सिंह गंभीर रूप से घायल हैं, जिन्हें डीएमसीएच रेफर किया गया।

बस में सवार मो. तमन्ना ने बताया कि सकरी में झटके और तेज आवाज के साथ बस रुकी। बस के अंदर अफरा-तफरी मच गई। कई लोग घायल हो गए। उसने बाहर निकलने की कोशिश कि तो दरवाजा नहीं खुल रहा था। घायल लोगों को इलाज के लिए सकरी स्थित निजी क्लीनिक में भर्ती कराया गया। इससे पहले की घटनास्थल पर पुलिस पहुंची स्थानीय लोगों की तत्परता के कारण फंसे लोगों को तुरंत बाहर निकाल लिया गया।

बताया जा रहा है कि इस बस में पूर्णिया और किशनगंज के यात्री सवार थे जो दिल्ली जा रहे थे। बस में क्षमता से अधिक लोग सवार थे। यात्रियों में महिलाओं और बच्चों की संख्या अधिक थी। दुर्घटना इतनी जबरदस्त थी कि आवाज सुनते ही आसपास के लोग दौड़ पड़े और तत्काल घायलों को सकरी के एक निजी अस्पताल पहुंचाया गया। टक्कर इतनी जोरदार थी कि बस का अगला हिस्सा चपटा हो गया और ड्राइवर व एक महिला यात्री फंस गए। जेसीबी की मदद से बस के अगले हिस्से को तोड़कर फंसे लोगों को बाहर निकाला गया। पुलिस कार्रवाई में जुटी हुई है। थानाध्यक्ष अशोक कुमार ने बताया कि यात्रियों को हर संभव मदद दी जा रही है।

Leave a Reply