मांझी का जागा नीतीश प्रेम, बोले- लोजपा प्रत्याशियों के खिलाफ उम्मीदवार उतारेगा ‘हम’

पटना, एमएम : बिहार में चुनावी तेवर धीरे- धीरे परवान चढ़ने लगा है। बयानबाजी का दौर शुरू हो चुका है। ऐसे में दोनों गठबंधन में बयानबाजी तो ठीक है। लेकिन गठबंधन के घटक दल भी एक दुसरे के खिलाफ मोर्चा थाम लिया है। ताजा मामला एनडीए के घटक दल का है। एनडीए में एंट्री के बाद पूर्व मुख्यमंत्री और हिंदुस्तान आवाम मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जीतनराम मांझी अब चिराग पासवान से आर-पार के मूड में हैं। मांझी ने कहा कि चिराग कहते हैं कि जहां जदयू के उम्मीदवार होंगे वहां उनके खिलाफ लोजपा प्रत्याशी उतारेगी। अगर यही स्थिति रही तो जहां लोजपा के कैंडिडेट होंगे वहां हिंदुस्तान आवाम मोर्चा भी प्रत्याशी उतारेगा। एनडीए में सामंजस्य बिठाकर चुनाव लड़ें तो देश और राज्य के लिए भी सही होगा। अगर सामंजस्य नहीं बैठा तो इससे सबको दिक्कत हो सकती है।

कुछ महीने पहले तक नीतीश के खिलाफ बोलने वाले जीतनराम मांझी के मन में लगता है अब उनके प्रति प्रेम जाग गया है। उन्होंने चेतावनी दी कि नीतीश के खिलाफ बगावत बर्दाश्त नहीं करेंगे। चिराग ने अगर सीएम के खिलाफ आवाज उठाई तो उन्हें करारा जवाब दिया जाएगा। बिहार में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार एनडीए को लीड कर रहे हैं तो ऐसे में उनके खिलाफ कोई बात बर्दाश्त नहीं की जा सकती है।

साथ ही मांझी ने लोजपा संरक्षक रामविलास पासवान पर आरोप लगते हुए कहा है कि चार दशक से दलितों की राजनीति कर रहे हैं लेकिन उनके लिए कुछ नहीं किया। इतने बड़े राजनीतिक जीवन में दलितों को कोई तरजीह नहीं दी। रामविलास और चिराग को दलितों को कुछ भी बोलने का अधिकार नहीं है।

बतादें कि लोक जनशक्ति पार्टी के अध्यक्ष चिराग पासवान पिछले कुछ दिनों से नीतीश के खिलाफ मोर्चा खोले हुए हैं। राजनीतिक सूत्रों के मुताबिक वे सिर्फ सीट शेयरिंग के लिए ऐसा कर रहे हैं। पहले जदयू ने चिराग को हैंडल करने की कोशिश की, लेकिन वे नहीं माने। भाजपा की तरफ से भी डैमेज कंट्रोल की कोशिश की जा रही है। चिराग ने यह बयान देकर और सरगर्मी बढ़ा दी है कि वे जदयू के खिलाफ उम्मीदवार उतारेंगे। माना जा रहा है कि चिराग के बगावती तेवर की वजह से ही नीतीश ने मांझी को एनडीए में लाने का फैसला किया।

Leave a Reply