चिराग पासवान को मिला पिता का समर्थन, बोले रामविलास- चिराग के हर फैसले के साथ खड़े हैं

दिल्ली/पटना, एमएम : बिहार में राजनीतिक सरगर्मी बढ़ती ही जा रही है।बिहार के दोनों प्रमुख गठबंधन में अंदरूनी क्लेश जारी  है। एनडीए के अंदर लोजपा  और जदयू के रिश्ते समान्य नहीं दिख रहा है। दोनों दलों के बीच की कड़वाहट किसी से छिपी नहीं है। ऐसे में नीतीश कुमार के खिलाफ मोरचाबंदी में लगे लोजपा अध्यक्ष चिराग पासवान को केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान का समर्थन मिल गया है। राजग में जारी गतिरोध के बीच रामविलास पासवान का बड़ा बयान सामने आया है। रामविलास पासवान ने कहा है कि वह लोजपा अध्यक्ष चिराग पासवान के हर फैसले के साथ मजबूती से खड़े हैं।

रामविलास पासवान ने शुक्रवार की सुबह बेहद भावनात्मक ट्वीट में लिखा है कि मुझे इस बात की खुशी है कि मेरा बेटा चिराग मेरे साथ है और मेरी सेवा कर रहा है। पार्टी से लेकर परिवार तक के हर फैसले में मैं अपने चिराग के साथ खड़ा हूं। रामविलास पासवान ने लिखा है कि मेरा ख्याल रखने के साथ-साथ पार्टी के प्रति चिराग अपनी जिम्मेदारियों को बखूबी निभा रहे हैं। मुझे विश्वास है कि अपनी युवा सोच से चिराग पार्टी और बिहार को नई ऊंचाइयों तक के ले जाएंगे।

एक अन्य ट्वीट में रामविलास पासवान ने लिखा है कि देश जब कोरोना का हाल से गुजर रहा था. उस वक्त उनकी तबीयत खराब थी, लेकिन देश के हर कोने में खाद्य सामग्री समय पर पहुंचे इसके लिए वह अस्पताल नहीं गये। आखिरकार जब हालात में सुधार हुआ तो बेटे चिराग के कहने पर अस्पताल में भर्ती हुआ हूँ। उन्होंने कहा हमें उम्मीद है कि वह जल्द ही स्वस्थ होकर अपनों के बीच वापस आ जाएंगे।

बतादें कि लोकसभा चुनाव के समय ही रामविलास पासवान ने पार्टी की कमान चिराग पासवान को सौंप दी थी। और तभी से चिराग ही पार्टी की नीतियां तय करते हैं। चिराग पासवान ने लगातार जदयू के खिलाफ मोर्चा खोल रखे है। बतादें कि 7 सितंबर को हुए प्रदेश संसदीय बोर्ड की बैठक में उनके पार्टी नेताओं ने 143 सीट लड़ने का निर्णय लिया था। इससे इतर नीतीश कुमार की नीतियों के उलट चिराग ने अपनी पार्टी की तरफ से चुनावी एजेंडा सामने रखा है। ऐसे वक्त में रामविलास पासवान का चिराग के लिए यह समर्थन सियासी मायने रखता है।

Leave a Reply