भागलपुर में अवैध संबंध के चलते 40 साल के शादीशुदा महिला और उसके प्रेमी की हुई हत्या, शौचालय में मिला दोनों का शव

भागलपुर, एमएम : बिहार के भागलपुर से एक सनसनीखेज घटना सामने आई है। खबर यह है कि अवैध संबंध के आरोप में शादीशुदा महिला और उसके प्रेमी की बेरहमी से हत्या कर शौचालय में बंद कर दिया गया है। घटना को आत्महत्या साबित करने की कोशिश की जा रही है। गांव वालों के मुताबिक दोनों की हत्या की गई है। घटना जिले के नवगछिया में गोपालपुर के अभिया गांव की है। मृतक महिला की पहचान शिल्पी देवी के रूप में हुई है जो बीएसएफ जवान सुबोध मंडल की पत्नी है। सुबोध गुजरात के अहमदाबाद में पोस्टेड हैं। वही गांव वाले लड़के को पहचान नहीं पा रहे हैं। घटना के बाद से महिला का पति और परिवार के लोग घर से फरार बताए जा रहे हैं। लड़के की उम्र करीब 20 साल जबकि महिला की 40 साल की है।

स्थानीय लोगों के मुताबिक सुबह ग्रामीणों ने शौचालय में बंद महिला और युवक का शव देखकर पुलिस को सूचना दी।  घटनास्थल पर पहुंचे एसडीपीओ मामले की छानबीन कर रहे हैं। पुलिस का कहना है कि राहुल घर में कब आया और कितने बजे उसे गोली मारी गई, इस बात का पता नहीं चल सका है। परिजनों का कहना है कि उन्हें गोली चलने की आवाज नहीं सुनाई दी। परिजनों के मुताबिक यह सुसाइड है लेकिन पुलिस हत्या और सुसाइड दोनों एंगल से इस मामले की जांच कर रही है। पुलिस को आशंका है कि अपराधियों ने दोनों की हत्या कर इसे सुसाइड एंगल देने की कोशिश की है। दो लोगों को हिरासत में लिया गया है और उनसे पूछताछ की जा रही है।

मृतक महिला के ससुर अभिमन्यु मंडल का कहना है कि रविवार सुबह मेरी पत्नी ने जब बाथरूम का दरवाजा खोला तो देखा कि बहू और एक युवक की लाश पड़ी है। पूरे बाथरूम में खून पसरा है। पुलिस को घटना की जानकारी दी गई। मौके पर पहुंची पुलिस को घटनास्थल से एक देसी कट्टा, गोली और खोखे मिले हैं। पुलिस का कहना है कि शुरुआती जांच के मुताबिक यह मामला हत्या का लग रहा है। फॉरेंसिक टीम भी मौके पर पहुंची है। दोनों शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है। प्रेम-प्रसंग के एंगल से भी मामले की जांच की जा रही है।

वहीं ग्रामीणों के मुताबिक अवैध संबंध के चलते शिल्पी का आए दिन अपने देवर से विवाद होता था। कहा जा रहा है कि उसी मोहल्ले में रहने वाले युवक राहुल और शिल्पी के बीच अवैध संबंध था। एक हफ्ते पहले शिल्पी ने बेटे को जन्म दिया था जिसकी छठी दो दिन पहले मनाई गई थी। राहुल बिहार पुलिस की लिखित परीक्षा पास कर चुका था और दौड़ की तैयारी कर रहा था। राहुल के पिता बांका जिले में बिहार पुलिस में कार्यरत हैं।

Leave a Reply