औरंगाबाद में घर से उठाकर नाबालिग से किया गैंगरेप, बेहोशी की हालत में गांव में फेंका

पटना, एमएम : बिहार में अपराध का बोलबाला बढ़ता ही जा रहा है। आए दिन रेप, हत्या और लूट की बारदात अब सामान्य बात हो गई है। इसके इतर बिहार में गैंगरेप भी बढ़ता जा रहा है। गैंगरेप में अधिकतर नाबालिग लड़की शिकार हो रही है। आखिर ऐसे घृणित काम के लिए ना जाने उनका ईमान कैसे इजाजत देता है। लोगों में बहशीपण बढ़ता जा रहा है। ताजा मामला बिहार के औरंगाबाद जिले का है।

बिहार के औरंगाबाद जिले के दाउदनगर थाना क्षेत्र के चौरम गांव में एक नाबालिग के साथ गैंगरेप का मामला सामने आया है। फिलहाल पीड़िता का इलाज जमुहार मेडिकल कॉलेज, सासाराम में चल रहा है। इसको लेकर शनिवार को गांव के लोगों ने विरोध प्रदर्शन किया और आगजनी की।

प्राप्त जानकारी के अनुसार चौरम गांव में एक नाबालिग को गुरुवार की रात घर से उठाकर ले जाया गया और गांव से बाहर रेप की घटना को अंजाम दिया गया। इस घटना में गांव के ही चार युवक शामिल थे। रात में युवती की खोज की गई। सुबह में उसे बेहोशी की हालत में चौरम गांव में पइन के समीप से बरामद किया गया, जिसके बाद उसे इलाज के लिए दाउदनगर लाया गया। शुक्रवार को ही उसे सदर अस्पताल, औरंगाबाद और फिर वहां से रेफर कर दिया गया। बेहोशी की हालत में उसे सासाराम के जमुहार मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया है।

लोगों का कहना है कि पुलिस इस मामले को छिपाने में लगी रही। शुक्रवार की रात में पीड़िता का बयान पुलिस ने लिया है जिसमें गांव के चार लोगों पर इस घटना को अंजाम देने का आरोप लगाया गया है। शनिवार को आस-पास के लोगों को इसकी जानकारी हुई तो सैकड़ों की संख्या में लोग विरोध प्रदर्शन करते हुए दाउदनगर थाना पहुंचे।

दाउदनगर थाना के सामने आगजनी की गई और आवागमन बाधित कर दिया। भारी संख्या में लोगों के पहुंचने के बाद दाउदनगर थाना के गेट को बंद कर दिया गया। स्थानीय लोगों ने पुलिस के खिलाफ नारेबाजी की और कार्रवाई में शिथिलता बरतने का आरोप लगाया।

ग्रामीणों ने कहा कि पुलिस इस मामले में रुचि नहीं ले रही है। पीड़िता को न्याय नहीं मिला तो उग्र आंदोलन होगा। पुलिस अधिकारियों ने लोगों को समझा-बुझाकर वापस भेजा। दाउदनगर थानाध्यक्ष राजकुमार ने बताया कि मामले की जांच की जा रही है।

समाचार लिखे जाने तक केस दर्ज नहीं किया गया था। जिस कारण ग्रामीणों ने दुबारा थाना का घेराव किया।

Leave a Reply