मधुबनी के बालिका गृह की प्रसूता की मौत, कोरोना जाँच के लिए लिया गया सैंपल

मधुबनी, एमएम : मधुबनी से दिल को झकझोर देने वाली एक घटना सामने आई है। प्राप्त जानकारी के मुताबिक मधुबनी शहर के संतु नगर स्थित बालिका गृह की लड़की की प्रसव के बाद इलाज के दौरान मौत हो गयी। प्रसूता की उम्र महज 18 साल बतायी जा रही है। उसका इलाज डीएमसीएच में चल रहा था। शुक्रवार शाम बालिका गृह प्रशासन शव को लेकर पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल पहुंचा।

जानकारी के मुताबिक डीएमसीएच प्रसूति विभाग में बीती देर रात मधुबनी बालिका सुधार गृह से प्रसूता को लायी गयी। अस्पताल में  कोरोना संदिग्ध प्रसूता व नवजात दोनों की मौत हो गयी। इसे लेकर डीएमसीएच प्रशासन की ओर से विभाग को सैनिटाइज कर दिया गया। वहीं प्रसूता का सैंपल जांच के लिए माइक्रोबायोलॉजी विभाग भेज दिया गया। रिपोर्ट आने के बाद संक्रमण का खुलासा हो पायेगा। बताया जाता है कि बालिका सुधार गृह से प्रसूता को डिलिवरी के लिए गायनी विभाग लाया गया था। उसके साथ संस्था की कुछ महिलाएं भी थीं। रात 11 बजे प्रसव के लिये ओटी भेजा गया। वहां जन्म के बाद ही नवजात की मौत हो गयी. गंभीर स्थिति को देखकर उसे एनएमसीएच रेफर कर दिया गया था।

जानकारी के अनुसार, सीतामढ़ी कोर्ट के निर्देश पर इसी साल 11 फरवरी को उक्त लड़की बालिका गृह में लायी गयी थी, तब से वह यहीं रह रही थी। सहायक निदेशक बाल संरक्षक ईकाई रश्मि वर्मा ने बताया कि लड़की जो जब लेबर पेन हुआ तो सदर अस्पताल ले जाया गया। वहां से डॉक्टरों ने उसे बेहतर उपचार के लिए डीएमसीएच रेफर कर दिया। डीएमसीएच में उसका इलाज चल रहा था। गुरुवार देर रात उसने एक बच्चे को जन्म दिया, जो मृत पैदा हुआ। इलाज के दौरान शुक्रवार दोपहर लड़की ने भी दम तोड़ दिया। रश्मि वर्मा ने बताया कि डॉक्टर की ओर से मृत घोषित करने के बाद उसे सदर अस्पताल में पोस्टमार्टम के लिए लाया गया। उन्होंने बताया कि इस संबंध में विभाग के सभी वरीए पदाधिकारी सहित सीतामढ़ी व दरभंगा सीडब्ल्यूसी को सूचित कर दिया गया है।

One Reply to “मधुबनी के बालिका गृह की प्रसूता की मौत, कोरोना जाँच के लिए लिया गया सैंपल”

Leave a Reply