रिश्ते हुए शर्मशार, छह महीने से पिता अपने ही नाबालिग पुत्री को बना रहा था हवस का शिकार

पटना, एमएम : बिहार के बक्सर जिले से एक सनसनी खेज खबर है।  रिश्तों को शर्मसार करने वाली एक घटना सामने आई है। जिसमें पिता पर ही अपनी नाबालिग पुत्री से दुष्कर्म किए जाने का आरोप लगा है। कृष्णाब्रह्म थाना क्षेत्र में हुई इस घटना के बाद मां के बयान पर महिला थाना में केस दर्ज कर लिया गया है, साथ ही आरोपी पिता को गिरफ्तार कर लिया गया।

महिला थानाध्यक्ष सुशीला देवी के मुताबिक थाना में दर्ज प्राथमिकी के अनुसार घटना करीब 6 माह पुरानी है, जब कृष्णाब्रह्म थाना क्षेत्र के एक गांव में सरस्वती पूजा के दिन मां किसी काम से पटना गई थी। घर में मौजूद एकमात्र भाई के पूजा पंडाल पर चले जाने के बाद घर में मौजूद अकेली 13 वर्षीय पुत्री को डरा धमका कर पिता ने अपनी ही पुत्री को हवस का शिकार बना डाला। बाद में मां के घर आने के बाद पुत्री ने रोते हुए घटना की जानकारी दी। इसका विरोध करने पर आरोपित पिता ने मां और पुत्री दोनों से गाली-गलौज करते हुए उनकी पिटाई कर दी। उसके बाद यह आए दिन का मामला हो गया।

जब कभी पीड़िता की मां ने विरोध किया उसे मार और गाली झेलनी पड़ी। बावजूद इन सबके लोकलाज के भय से मां-बेटी दोनों ही चुप थी। जब पानी सिर से ऊपर जाने लगा तब मजबूर होकर मां ने पुत्री के साथ कृष्णाब्रह्म थाना जाकर थानाध्यक्ष को पूरी घटना से अवगत कराया।

मामले में कलयुगी पिता पर पॉक्सो के तहत महिला थाना में प्राथमिकी दर्ज करने के बाद उसे गिरफ्तार कर लिया गया। महिला थानाध्यक्ष सुशीला देवी ने गिरफ्तारी की पुष्टि करते हुए बताया कि पीडि़ता को मेडिकल जांच के लिए अस्पताल भेजा गया है।

एक पिता के रूप में ऐसी शर्मनाक हरकत पर भले ही किसी को यकीन नहीं हो पर पिता की काली करतूतों के कारण उसका 16 वर्षीय पुत्र और तीन अन्य पुत्रियों के भी पिता के खिलाफ होना अपने आप में कहीं न कहीं घटना की गहराई को प्रमाणित करता है। अन्य तीनों बेटियों के साथ पुत्र भी बराबर इसका विरोध करता था। पर, अपनी मनमानी के सामने पिता ने किसी की एक नहीं सुनी।

बतादें कि आरोपी पिता पहले दुबई में काम करता था। वहां से लौट कर आने के बाद दिन भर मटरगश्ती, शराब पीने और जुआ खेलना ही उसकी दिनचर्या बन चुकी थी। जबकि घर में प्रवेश करने के साथ ही उसके सिर पर सिर्फ एक ही धुन सवार रहती थी। इसके सिवा और कोई काम नहीं करता था। गांव में यह बात किसी और को पता नहीं चले इसके लिए उसने घर में किसी के भी आने-जाने पर रोक लगा दी थी।

Leave a Reply