पूर्णिया में नाबालिग के साथ हुआ सामूहिक बलात्कार, एक गिरफ्तार दूसरा फरार

पूर्णिया, एमएम : एक बड़ी खबर बिहार के पूर्णिया जिले से मिल रही है जहां एक नाबालिग लड़की के साथ सामूहिक बलात्कार हुआ है। मिल रही जानकारी के मुताबिक जिले के मुफस्सिल थाना क्षेत्र के गौरा पंचायत के एक गांव की 14 वर्षीया नाबालिग के साथ चार युवकों द्वारा दुष्कर्म किया है। पीड़ित परिवार ने मुफस्सिल थाना में आवेदन देकर न्याय की गुहार लगायी है। घटना बुधवार देर शाम की बतायी जा रही है। वहीं पीड़िता ने मझुवा गांव निवासी सूरज चौहान, विक्की चौहान एवं अन्य को आरोपित किया है।

वहीं पीड़ित लड़की के परिजनों ने मुफस्सिल थाना में आवेदन देकर बताया कि मेरी बेटी अपने गांव के ही एक लड़की के साथ घास काटने खेत गयी थी उसी क्रम में उसे घर आते समय गांव के पास ही झाड़ी के पास चार युवक उसे रोककर पहले तो उसके सिर पर से घास का गट्ठर नीचे फेंक दिया फिर उसके हाथ से हंसुआ छीन लिया। जब उसंने इसका विरोध किया तो उन दोनों युवक ने उसके दुपट्टे से उसके हाथ-पांव बांध दिए और उन्होंने उसके साथ दुष्कर्म किए। इस क्रम में उसके साथ अन्य एक लड़की वहां से फरार हो गयी। उसे यह कहा कि किसी को भी कुछ मत बताना वरना तुम्हारी हत्या करवा देंगे। जिसके बाद उक्त चारों लड़के ने मेरी बेटी के साथ दुष्कर्म किया। देर संध्या तक घर नहीं आने पर जब खोजबीन की, तो उसकी मां को वह बांस के झाड़ी के समीप मिली। लड़की की स्थिति काफी नाजुक थी। जिसके बाद हमलोग उसे उठाकर घर ले गये.

स्थानीय जनप्रतिनिधि ने मामले को प्रशासनिक कार्यवाही न कर रफा दफा करने की बात कही। वहीं सभी आरोपियों ने पीड़ित परिवार को धमकी दी कि अगर पुलिस प्रशासन के पास गये, तो सभी की हत्या करवा देंगे। वहीं थाना अध्यक्ष मदन कुमार ने बताया कि पीड़ित के द्वारा मुफस्सिल थाना में दो लोगों के विरुद्ध नाम दर्ज आवेदन मिला है और इस मामले में एक युवक को गिरफ्तार किया गया है।

जानकारी के अनुसार, पुलिस ने दुष्कर्म के मुख्य आरोपित सूरज चौहान को दबोच कर पूछताछ कर रही है। वहीं दूसरा आरोपित विक्की चौहान फरार हो गया है। उसकी गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है। दोनों आरोपित गौरा पंचायत के तीरा मटियारी गांव के हैं।

सामूहिक दुष्‍कर्म के मामले के बाद क्षेत्र में तनाव व्‍याप्‍त है। शनिवार को भी लोगों का गुस्‍सा देखने को मिला। पुलिस से लोग आरोपितों की गिरफ्तारी की मांग कर रहे थे।

Leave a Reply