पटना में गला दबाकर पत्नी की हत्या, चुपके से मधुबनी लाकर करने जा रहा था दाह संस्कार

नई दिल्लीः बिहार के मधुबनी ज़िले के मरूकिया गांव के रहने वाले राजीव रंजन झा ने पटना स्थित शास्त्रीनगर थाना क्षेत्र न्यू चुनाईचक हनुमान नगर काॅलोनी में अपने आवास पर गला दबाकर अपनी पत्नी पूजा कुमारी (34-वर्ष) हत्या कर दी। मृतिका के भाई दुर्गेश कुमार झा जो कि रूप से मधुबनी ज़िले के कर्णपुर के निवासी उन्होंने इसकी शिकायत खजौली थाना को दी है। एमएम से बातचीत करते हुए दुर्गेश कुमार झा ने कहा कि पटना में उनकी बहन की हत्या कर दी गई और फ़िर लाश को ठिकाने लगाने के लिए उसे एम्बुलेंस के माध्यम से मधुबनी स्थित मरूकिया लाया जा रहा था। चैकाने वाली बात यह है कि आरोपी राजवी रंजन झा और उनके माता-पिता ने इस बात की जानकारी न तो पटना में किसी थाने को लगने दी और न ही लाश का पोस्टमाॅर्टम होने दिया। चुपके से एम्बुलेंस से लाश को मधुबनी ले आए।
दुर्गेश कुमार झा बताते हैं कि किसी तरह से उन तक बहन की हत्या की ख़बर मिली जिसके बाद वे खजौली थाना में जाकर जीरो एफआईआर लिखवाया। पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए लाश को अपने कब्जे में लेकर उसे पोस्टमाॅर्टम के लिए मधुबनी भेज दिया। मृतिका के भाई की माने तो उनकी बहन की हत्या 22 जून को कर दी गई और उसी दिन एम्बुलेंस से लाश को मरूकिया लया गया। मरूकिया में जब पहले से ही ससुराल वाले की मौजूदगी की ख़बर मृतिका के पति राजीव रंजन झा को मिली तो वे फ़रार हो गए जबकि मृतिका के ससुर कपलेश्वर झा तथा सास नीलम देवी भाग नहीं पाए।
मृतिका के नाबालिग बेटे आदित्य कश्यप ने पुलिस को बताया कि उसकी दादी उसे गरम मशाला लाने के लिए दुकान भेज दी लेकिन जब वे वापस आए तो देखा कि उनकी मां की लाश ज़मीन पर पड़ा हुआ है। मृतिका पूजा के गले पर स्पष्ट रूप से रस्सी की फंदे का निशान देखा जा सकता है। मृतिका के भाई दुर्गेश कुमार झा ने कहा कि उनके परिवार वालों ने वर्ष 2006 में बहन की शादी धूम-धाम से मैथिल रिवाज के अनुसार मरूकिया निवसी राजीव रंजन झा के साथ की थी। शादी के बाद उनकी बहन को पता चला कि लड़का शराबी है, जिसके बाद मृतिका पूजा को उनके नैहर वाले अपने यहां ले आए लेकिन बिहार में शराबबंदी के बाद मृतिका के पति का व्यवहार में परिर्वन हुआ और फ़िर पारिवारिक समझौते के साथ वे पूजा को दूबारा अपने यहां लेकर आ गए। एक साल तक सबकुछ ठीक रहा लेकिन उसके बाद फ़िर वही पुरानी मारपीट वाली कहानी शुरू कर दी। दुर्गेश की माने तो मृतिका पूजा के साथ उसके पति के अलावे सास, ससुर और जेठ-जेठानी भी हमेशा मारपीट करते रहते थे, इसकी जानकारी मृतिका के बेटे आदित्य ने भी पुलिस को दी। खजौली थानाध्यक्ष रामचन्द्र चौपाल ने बताया कि ज़ीरो एफआईआर कर इसकी जानकारी संबंधित थाना क्षेत्र को भेज दिया गया है।

2 Replies to “पटना में गला दबाकर पत्नी की हत्या, चुपके से मधुबनी लाकर करने जा रहा था दाह संस्कार”

  1. केस का स्टेटस कया है सब आरोपी पकड़ा गया कि नहीं? इनपर सक्त कार्रवाई हो।

  2. बहुत ही दुःखद,दोषियों को सजा जरूर मिले !!
    विनम्र श्रद्धांजलि !!

Leave a Reply