मधुबनी के बासोपट्टी में घंटों से एंबुलेंस में पड़ा है शव, डीएमसीएच अस्पताल में कोरोना के कारण हुई थी मौत

मधुबनी, एमएम : बिहार के मधुबनी से एक बड़ी खबर सामने आ रही है। मधुबनी जिले के बासोपट्टी में एक कोरोना के कारण मौत हुए एक शव एक एम्बुलेंस में पड़ा है। लेकिन कोई भी उस शव को उतारने को राजी नहीं है। यहाँ तक की डीएमसीएच प्रशासन के लाख अनुरोध के बाद भी स्थानीय प्रशासन शव उतारने में कोई पहल नहीं कर रहा है।  बतादें कि डीएमसीएच में इलाज के दौरान उक्त व्यक्ति ने दम तोड़ दिया। अब जब उसका शव बासोपट्टी लाया गया तो कोई उस शव को उतार नहीं रहा है। जिस कारण  व कोरोना मरीज का शव बासोपट्टी में घंटों से एंबुलेंस में पड़ा है। इस वजह से वहां गई एंबुलेंस भी घंटों से वहां फंसी हुई है। एंबुलेंस के फंसे रहने से मरीजों को लाने व भेजने में डीएमसीएच प्रशासन को परेशानी हो रही है।

बताया जा रहा है कि मरीज की मौत होने के बाद डीएमसीएच अधीक्षक डॉ. मणिभूषण शर्मा ने कोरोना प्रोटाकॉल के तहत शव को प्लास्टिक बैग में पैक करा 102 एंबुलेंस से सुबह नौ बजे रवाना कर दिया था। शव के वहां पहुंचाने के बाद परिजन उतारने के लिए तैयार नहीं हो रहे थे। अस्पताल अधीक्षक डॉ़ शर्मा ने कई बार वहां के सीओ को फोन कर शव को उतरवाने का अनुरोध किया ताकि एंबुलेंस लौट सके। हालांकि समाचार लिखने तक शव एंबुलेंस में ही पड़ा था। डीएमसीएच अधीक्षक डॉ़ मणिभूषण शर्मा ने इसकी पुष्टि की। गौरतलब है कि चार दिन पहले मधुबनी से एंबुलेंस नहीं भेजे जाने के कारण डीएमसीएच के कोरोना वार्ड में मरीज का शव कई घंटों तक पड़ा रहा।

Leave a Reply